कच्ची कोठरी के मलबे में दबकर बुजुर्ग महिला की मौत

 


हरदोई।
रुक-रुक हो रही बारिश के बीच कच्ची कोठरी भर-भरा कर ढ़ह गई। जिसके चलते उसके नीचे सो रही बुज़ुर्ग की मलबे में दब कर मौत हो गई। इसका पता होते ही पुलिस और राजस्व की टीम ने मौके पर पहुंच कर जांच-पड़ताल की। बताते है कि कोतवाली देहात के मदारा गांव में लक्ष्मण के मकान में एक कच्ची कोठरी थी। शुक्रवार की रात लक्ष्मण की 80 वर्षीय बुज़ुर्ग पत्नी रामरानी उसी कोठरी के नीचे अकेली सो रही थी।बाकी परिवार के लोग मकान के दूसरे ठिकाने पर सो रहे थे। रुक-रुक कर हो रही बारिश के दौरान आधी रात को कच्ची कोठरी भर-भरा कर ढ़ह गई। रामरानी उसके मलबे में दब गई। कोठरी के ढ़हने की आवाज़ सुन कर सभी लोग दौड़ पड़े। रामरानी के बेटे श्यामलाल ने बताया है कि उसने घर और बाहर वालों की मदद से मलबा हटाते, लेकिन उससे पहले ही बुज़ुर्ग मां रामरानी की मौत हो चुकी थी। रामरानी के पति की पहले ही मौत हो चुकी है। उसके 7 बेटें हैं। जिनमें श्यामलाल, श्रीकृष्ण, मंगरे, मेवाराम, कल्लू,जगनू और रामपाल है। 2 बेटियां हैं, जिनकी शादी हो चुकी है। हादसे का पता होते ही इलाकाई पुलिस के अलावा राजस्व की टीम ने मौके पर पहुंच कर जांच-पड़ताल की रामरानी के शव का पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक