जनता ने उद्दंडता की तो कोरोना देगा मौत - सुनील सिंह गौर

 



वरिष्ठ अधिवक्ता व पूर्व उपाध्यक्ष बार एसोसिएशन ने की कोरोना प्रोटोकॉल के पालन की अपील

सीतापुर। कोरोना की तीसरी लहर से पूरे देश में खौफ का माहौल है वहीं कुछ प्रदेश में लॉकडाउन जैसी स्थिति बन गई है कुछ प्रदेशों में रात्रि कर्फ्यू के जरिए आंशिक लॉकडाउन की शुरुआत हो चुकी है। कोरोना की दूसरी लहर की मार से जहां देश उबरने के लिए आगे बढ़ रहा था वही कोविड-19 नियमों में लापरवाही ने तीसरी लहर को बढ़ावा दे दिया है । कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रान भी लगातार अपने पैर पसार रहा है जिसका असर साफ तौर पर महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तर प्रदेश सहित तमाम राज्यों में देखा जा सकता है। उत्तर प्रदेश में भी कोरोना मरीजों की संख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है और राजधानी लखनऊ में भी इसका असर हो रहा है लखनऊ की सीमा से लगा हुआ जिला सीतापुर भी कोरोना से लगातार प्रभावित हो रहा है। सीतापुर में कोरोना के मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी दर्ज की जा रही है जो कि बेहद चिंताजनक है। यदि जनता कोविड-19 का उल्लंघन करती रहेगी तो आगामी समय में स्थितियां बेकाबू हो सकती हैं। कोरोना के कहर पर चिंता व्यक्त करते हुए सीतापुर बार एसोसिएशन के वरिष्ठ अधिवक्ता व पूर्व उपाध्यक्ष सुनील सिंह गौर ने जनता से कोविड-19 के नियमों का पालन करने के लिए अनुरोध किया है और जनता के द्वारा हो रहे कोविड-19 के उल्लंघन का विरोध भी किया है । जनता को कोरोना नियमों के प्रति जागरूक होने की जरूरत है और साथ ही प्रशासन को कोविड-19 नियमों का सख्ती से पालन करवाए जाने के लिए जल्द से जल्द ठोस कदम उठाने की बेहद आवश्यकता है। अन्यथा इसका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ सकता है। श्री सिंह ने कहा कि उच्च न्यायालय के कुछ अधिकारियों का कोरोना पॉजिटिव मिलना बेहद चिंताजनक है । विगत दिवस सीतापुर कचहरी परिसर की सुरक्षा व्यवस्था में  तैनात कुछ पुलिसकर्मियों को कोरोना नियमों का उल्लंघन करते देखे गए हैं जो कि बेहद चिंता का विषय है। प्रशासन को इस प्रकार की लापरवाही करने वाले कर्मचारियों पर ध्यान देने की आवश्यकता है । उन्होने कहा कि जब जिम्मेदार ही नियमों का उल्लंघन करेंगे तो जनता में इसका क्या संदेश जाएगा? कोरोना की तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए श्री सिंह के द्वारा जनता से कोरोना नियमों के 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक