बसपा में हुए पूर्व निष्कासन को लेकर बसपा कार्यकर्ताओं में रोष

 



लखीमपुर खीरी बसपा में हाल ही में जिला अध्यक्ष के द्वारा चार लोगों को निष्कासन के बाद दल में अंतर्द्वंद शुरू हो चुका है। जिसकी गहमागहमी अब विरोध बनकर सामने आने लगी हैं। आपको बताते चलें कि लखीमपुर में हीरालाल धर्मशाला मे स्थिति बसपा के जिला कार्यालय के बाहर सभी आठों विधानसभा के कार्यकर्ताओं ने एकजुट होकर जिलाध्यक्ष द्वारा उमाशंकर गौतम, प्रमोद चौधरी, मोहन बाजपेई, दिनेश मास्टर के निष्कासन के निर्णय की कठोर निंदा की और यह भी बताया कि इस प्रकार से जिलाध्यक्ष अन्य दलों को मजबूत बनाने का काम कर रहे हैं। सभी कार्यकर्ताओं ने एक स्वर में कहा कि यदि बसपा के वर्तमान जिलाध्यक्ष को नहीं हटाया गया और निष्कासित किए गए चार कार्यकर्ताओं को पार्टी में पुनः वापस नहीं किया गया तो जल्द ही बड़ा आंदोलन होगा। इसका असर चुनाव में देखने को मिलेगा। सभी कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की और कहा कि यदि मांगे पूरी नहीं हुई तो सभी लोग इस बार चुनाव में नोटा का बटन दबाएंगे। इस मौके पर सभी आठों विधानसभाओं से सेक्टर अध्यक्ष, बूथ अध्यक्ष सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक