तहसील में फरियादी अपनी समस्या को लेकर दर-दर भटकने को मजबूर





जिम्मेदार अधिकारी नहीं सुन रहे फरियादियों की समस्याएं

मिश्रिख सीतापुर उप जिला अधिकारी मिथिलेश त्रिपाठी की घोर लापरवाही के चलते महिला दर-दर की ठोकरें खा रही हैं नहीं दे रह् प्रशासन ध्यान कुंभकरण की निद्रा में सोया है जिला अधिकारी को खुलेआम दिखाया जा रहा ठेंगा राजकुमार गुप्ता तहसीलदार भ्रष्टाचार में चर्चाओं में चर्चित अगर जमीनी स्तरीय जांच हो जाए हकीकत खुद सामने आ जाएगी गरीबों का कंबल वितरण करने का आदेश दिया गया था क्या तहसीलदार के पास लेखा-जोखा होगा लेखपाल क्या हर ग्राम सभाओं में कंबल वितरण किया होगा जांच का विषय बनता है महर्षि दधीचि तपोस्थली मिश्रित क्षेत्र में प्रशासन की लापरवाही इस तरह से भ्रष्टाचार का कारण बनती चली जा रही है की आय जाति निवास किसान सम्मान निधि हेतु रिपोर्ट लगवाने के लिए लोग लेखपाल व कर्मचारियों के चार चार दिन से चक्कर लगा रहे हैं लेकिन चक्कर लगाने के बावजूद सभी कर्मचारी अपना पल्ला झाड़ कर फरियादी को इधर उधर भटकने के लिए छोड़ देते हैं मिश्रिखतहसील में प्राइवेट कर्मचारियों का जमावड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है प्राइवेट कर्मचारी के हाथ में आवेदन आते ही संबंधित कर्मचारी वाले बाल के पास जाकर रिपोर्ट लग जाती है आज तहसील क्षेत्र में हाता कप्तान निवासी चेतराम बताते हैं कि 4 दिन से दौड़ रहे हैं लेकिन लेखपाल आज कोई कर्मचारी नहीं मिल रहे हैं खोजपुर से आए प्रदीप दीक्षित बताते हैं कि काफी दिनों से सम्मान निधि पर रिपोर्ट लगवाने के लिए दौड़ रहे हैं लेकिन कोई नहीं सुन रहा है दीपा बाजपेई हरिहरपुर निवासी बताती हैं कि लेखपाल से रिपोर्ट लगवाने हेतु दौड़ रहे हैं लेकिन हमें इधर-उधर भटकाया जा रहा है आय जात के नाम पर जमकर कर रहे लेखपाल धन उगाही भ्रष्टाचार थमने का नाम नहीं ले रहा लेखपाल कहते हैं लाल परी ठंडक में पीने के लिए थोड़ा पैसा दे दो वेतन तो मिल ही रहा ऊपर की कमाई गरीब की गुलछर्रे उड़ा देते हैं लेखपाल जांच का विषय बनता है ऐसे लेखपाल पर सख्त कार्रवाई होना चाहिए

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक