नोडल प्रभारी ने कोविड़ कमाण्ड और कण्ट्रोल सेण्टर का निरीक्षण की ली जानकारी


 सीतापुर ।
कमिश्नर वाणिज्य कर नोडल अधिकारी श्रीमती मिनिस्ती एस0 ने गुरूवार को भ्रमण के तीसरे दिन जिला अस्पताल, ऑख अस्पताल, कान्हा उपवन एवं निराश्रित गौवंश आश्रय स्थल नगर पालिका सीतापुर, एकीकृत कोविड कमाण्ड एवं कन्ट्रोल सेन्टर का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखीं। उन्होंने जिला चिकित्सालय सीतापुर में निर्माणाधीन वार्ड का निरीक्षण करते हुये सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। साथ ही प्रत्येक वार्ड में आक्सीजन क्रियाशील रहे। उन्होंने ओमिक्रान वार्ड को देखा व स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में जानकारी ली। इसके उपरान्त उन्होंने पीडियाट्रिक आई0सी0यू0 वार्ड का निरीक्षण कर जरूरी मशीनों की उपलब्धता एवं उनकी क्रियाशीलता की भी जानकारी ली। नोडल अधिकारी ने आक्सीजन प्लांट का निरीक्षण कर निर्देश दिये कि आक्सीजन प्लांट संबंधित अधिकारी व टैक्नीशियन का मोबाइल नम्बर दर्शाया जाये ताकि आकस्मिक स्थिति में नम्बरों पर सम्पर्क किया जा सके तथा आक्सीजन प्लांट की कार्यप्रणाली के बारे में भी जानकारी ली। ई-वैक्सीन स्टोर में लाईटिंग व्यवस्था, साफ-सफाई के साथ कोल्ड चैन का सुचारू रूप से संचालन करने के निर्देश नोडल अधिकारी ने दिये। उन्होंने चिकित्सालय में स्थापित आर0टी0पी0सी0आर0 लैब में का निरीक्षण कर मशीन की स्थिति के बारे में जानकारी ली। इसके उपरान्त नोडल अधिकारी ने ऑख अस्पताल पहुंचकर कराये जा रहे कोविड टीकाकरण की स्थिति के बारे में जानकारी ली। साथ ही उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि कोविड टीकाकरण का बैनर स्पष्ट रूप से साफ दिखायी देना चाहिये ताकि लोगों को टीकाकरण की जानकारी हो सके तथा दोनों टीकाकरण पूर्ण होने के 09 महीनें बाद बूस्टर डोज लगाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने सीतापुर नगर क्षेत्र में स्थित कान्हा उपवन एवं निराश्रित गौवंश आश्रय स्थल का निरीक्षण कर निर्देश दिये कि बीमार पशुओं का अलग से रिकार्ड तथा पशुओं के उपचार में दी जाने वाली दवाओं का भी रिकार्ड तैयार किया जाये। उन्होंने पशुओं के लिये पर्याप्त मात्रा में चारा, भूसा, पानी, अलाव आदि का भी प्रबंध रखने के निर्देश दिये। उन्होंने संबंधित अधिकारी को मण्डियों में बचने वाले वेस्ट को चारे केे रूप में उपयोग करने के निर्देश दिये तथा सभी पशुओं का टीकाकरण कराये जाने लिये भी निर्देशित किया। नोडल अधिकारी ने विकास भवन स्थित एकीकृत कोविड कमाण्ड एवं कन्ट्रोल सेन्टर का निरीक्षण किया तथा वहां पर कार्यरत कर्मियों से वार्ता कर जानकारी ली कि अब तक कितने होम आईसोलेट हुये हैं और उनको क्या-क्या सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अक्षत वर्मा, जिला विकास अधिकारी राकेश कुमार पाण्डेय, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका वैभव त्रिपाठी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 मधु गैरोला सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक