पैसा निकलने के बाद भी अधूरा पड़ा सामुदायिक शौचालय, जिम्मेदार बने अंजान


 सरकार की विभिन्न योजनाओं में जमकर किया जा रहा गोलमाल टडियावां। प्रदेश के मुख्यमंत्री जहां एक ओर भ्रष्टाचार मुक्त प्रदेश बनाने की बात कहते है तो वही उनके ही अधिकारी कर्मचारी अपनी खाऊ कमाऊ आदत्त में व्यस्त हैं। जिम्मेदार अधिकारियों की शह पर ग्राम पंचायतों जनप्रतिनिधियों के द्वारा सरकार की विभिन्न योजनाओं में जमकर गोलमाल किया जा रहा है। ठीक ऐसा मामला यहां जनपद हरदोई की विकास खण्ड अहिरोरी की ग्राम पंचायत गोपालपुर का प्रकाश में आया है। जहां प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के अंतर्गत निर्मित सामुदायिक शौचालय निर्माण के पैसे निकलने के बाद भी अधूरा पड़ा है। प्रदेश सरकार द्वारा बीते वर्ष ग्रामीण क्षेत्रों की सभी ग्राम पंचायतों में एक सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराया गया था। जिसका पूर्ण भुगतान भी शासन द्वारा किया जा चुका हैं। यहां अहिरोरी ब्लॉक की ग्राम पंचायत गोपालपुर में पैसा निकलने के बाद भी ग्राम प्रधान द्वारा शौचालय का निर्माण कार्य नही कराया गया। वही सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक उक्त ग्राम पंचायत गोपालपुर के सामुदायिक शौचालय निर्माण का पैसा ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी (सेक्रेटरी के द्वारा) आपस मे बंदर बाट कर लिया गया है। जिसके कारण शौचालय का निर्माण पूर्ण रूप से नही हुआ है। शौचालय में जो गेट लगा था वह टूटने लगा है, टैंक व समरसेबल, हैंडपंप का प्लास्टर आदि कार्य अभी अधूरा पड़ा है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक