सीतापुर में होगा नवप्रवर्तन कार्यक्रम का आयोजन


 सीडीओ ने दी तीन कार्यक्रमों के आयोजन की संस्तुति

सीतापुर । विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद उत्तर प्रदेश के नवप्रवर्तन केंद्र के तत्वाधान में जिला विज्ञान क्लब द्वारा सीतापुर में नव प्रवर्तकों को चिन्हित कर उन्हें सम्मानित कराने व पहचान दिलाने के उद्देश्य से नवप्रवर्तन जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन जिला विज्ञान क्लब के द्वारा किया जा रहा है। मुख्य विकास अधिकारी एवं क्लब के उपाध्यक्ष अक्षत वर्मा ने 3 कार्यक्रमों के आयोजन की संस्तुति की है जिस पर पर जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज ने कार्यक्रमों के आयोजनार्थ निर्देश जारी किए हैं। जिला विज्ञान क्लब के समन्वयक डॉ योगेश चन्द्र दीक्षित ने बताया कि स्कूली बच्चों के लिए तोड़फोड़ जोड कार्यक्रम का आयोजन तहसील स्तर पर कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय मिश्रिख में किया जाएगा। इसके उपरांत फरवरी माह में बाल सृजनात्मक एवं नवप्रवर्तन दिवस कार्यशाला का आयोजन होगा। तृणमूल स्तर पर नव प्रवर्तकों की खोज करने हेतु असंगठित क्षेत्र के अथवा कम पढ़े लिखे मिस्त्री, मजदूर, किसान, आदि में किसी भी प्रकार के नवप्रवर्तन के चिन्हीकरण हेतु एक दिवसीय कार्यशाला राजकीय इंटर कॉलेज सीतापुर में आयोजित की जाएगी। जिला विद्यालय निरीक्षक देवी सहाय तिवारी ने राजकीय इंटर कॉलेज सीतापुर के प्रधानाचार्य अनूप कुमार को इन कार्यक्रमों का नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। कार्यक्रमों का मुख्य उद्देश्य  ऐसे कम पढ़े-लिखे अथवा कक्षा 12 तक शिक्षा प्राप्त किए हुए विभिन्न क्षेत्रों के युवाओं को चिन्हित करना है जिन्होंने सिर्फ अपने अनुभव के आधार पर जीवन को सुगम बनाने हेतु अथवा किसी कार्य को आसानी से करने हेतु बिना विज्ञान की शिक्षा प्राप्त किए हुए नवीन खोज की है अथवा नए प्रकार से कार्य करने की अविधारणा प्रस्तुत की है। जिला स्तर पर ऐसे नव प्रवर्तकों को चिन्हित करने के उपरांत उनका पंजीकरण नवप्रवर्तन केंद्र में करवा कर उन्हें समुचित सम्मान तथा पहचान दिलाने का कार्य जिला विज्ञान क्लब को दिया गया है। डॉ योगेश चन्द्र दीक्षित ने बताया कि कार्यक्रमों का आयोजन कोविड-19 से बचाव हेतु  समस्त नियमों का पालन करते हुए किया जाएगा।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक