बीच में छोड़ी दवा, नहीं काम आएगी दुआ-सीएमओ


 धर्मगुरुओं के साथ मिलकर लड़ी जाएगी लड़ाई

हरदोई। आज़ादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर जिले को टीबी मुक्त बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग हर सम्भव प्रयास कर रहा है। टीबी बीमारी लाइलाज नही है बस इसका उपचार बीच मे नही छोड़ना है। यह बात सीएमओ डाॅ0 ओमप्रकाश तिवारी ने मीडिया से रूबरू होते हुए कही। सीएमओ डाॅ0 तिवारी ने कहा कि प्रदेश को टीबी मुक्त बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग एनटीईपी कार्यक्रम चला रहा है। इस साल के पहले सप्ताह में स्कूल कालेज और मदरसों के छात्रों को टीबी के प्रति जागरूक किया जा रहा है। उसके बाद धर्मगुरुओं से मिलकर टीबी को जड़ से खत्म करने के लिए उनके द्वारा समाज मे अपीलें करवाई जाएंगी। इसके अलावा कोविड के मरीज भी बढ़ने लगे है। उन्होंने कोविड से सतर्क रहने की हिदायत भी दी गयी। डीटीओ डाॅ0 अमरजीत सिंह अजमानी ने बताया कि जिले में लगातार टीबी के मरीजो को खोजकर उनका इलाज करा जा रहा है। पूरे जिले में लगभग सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर सभी तरह की जांच की व्यवस्था है। जगह जगह डॉट्स सेंटर है। जहां मरीजों को निःशुल्क दवा खिलाई जाती है। यह आइकॉनिक वीक चल रहा है इस वीक में सभी धर्मगुरुओं के माध्यम से समाज को जागरूक किया जाएगा। ताकि समाज मे टीबी के प्रति फैली गलतफहमियांदूर हो सके। डाॅ0 अजमानी ने टीबी के लक्षण और उससे बचाव के उपाय बताये। इस मौके पर डा. प्रदीप कश्यप, डीपीसी महेन्द्र यादव, उपदेश कुमार, जावेद खान, ब्रजेश मित्रा,महेश श्रीवास्तव, विनोद यादव, सुभाष आदि कर्मचारी मौजूद रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक