विधानसभा चुनाव टलने के आसार नहीं, EC ने स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ ओमीक्रोन को लेकर की चर्चा: सूत्र


 
नयी दिल्ली। क्या कोरोना वायरस के नए वेरिएंट 'ओमीक्रोन' के बढ़ते खतरे के बीच पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव टल सकते हैं ? क्या चुनाव आयोग कोई बड़ा कदम उठा सकता है ? इस तरह के तमाम सवालों के बीच नहीं लगता है कि चुनाव आयोग ने स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ बैठक की। हालांकि इस बैठक में चुनाव टालने को लेकर कोई भी फैसला नहीं हुआ है। वहीं सूत्र बताते हैं कि पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के टलने के आसार नहीं हैं। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव को टालने को लेकर की गई इस बैठक में चुनाव आयोग ने स्वास्थ्य सचिव से ओमीक्रोन से लेकर वैक्सीनेशन तक की जानकारी ली। 

सूत्रों ने बताया कि स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने देश में, विशेष रूप से उत्तराखंड, मणिपुर, गोवा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में कोविड की स्थिति पर लगभग एक घंटे तक चुनाव आयोग को जानकारी दी। इस दौरान कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन के प्रसार के मुद्दे पर भी चर्चा हुई। वहीं चुनावी राज्यों में कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक 70 फीसदी लोगों को दी जा चुकी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चुनाव आयोग अपने फैसले पर अटल है और जल्द ही चुनावी राज्यों का दौरा कर अधिसूचना जारी कर सकता है। माना जा रहा है कि चुनाव आयोग पश्चिम बंगाल से सीख लेते हुए चुनावी रैलियों को लेकर सख्त निर्देश जारी कर सकता है। 

आपको बता दें कि इलाहाबाद हाई कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चुनाव आयोग से ओमीक्रोन के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए चुनाव को टालने की अपील की थी। जिसके बाद लगातार इस विषय पर चर्चा हो रही है। गौरतलब है कि गोवा, पंजाब, उत्तराखंड और मणिपुर विधानसभाओं का कार्यकाल अगले साल मार्च में अलग-अलग तारीखों पर समाप्त हो रहा है, जबकि उत्तर प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल मई में समाप्त होगा। ऐसे में चुनाव आयोग अगले महीने चुनाव की तारीखों का ऐलान कर सकता है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक