मस्त हफीज रहमानी की किताब ‘‘अक्से मारिफत‘‘ को उर्दू अकादमी ने किया पुरस्कृत


सीतापुर
, । विश्व के मानचित्र पर जनपद का नाम रौशन करने वाले शायर, साहित्यकार और लम्बे समय तक उर्दू पत्रकारिता में अपना लोहा मनवाने वाले मस्त हफीज रहामनी की किताब ‘‘अक्से मारिफत‘‘ को उत्तर प्रदेश उर्दू अकादमी द्वारा पुरूस्कृत किया गया है। उन्हें यह पुरस्कार नातिया काव्य संग्रह पर प्राप्त हुआ है। ज्ञातव्य है कि मस्त रहमानी द्वारा लिखी गई यह पुस्तक विश्व स्तर पर ख्याति अर्जित कर रही है। भारत के अलग-अलग स्थानों पर साहित्यकारों ने किताब पर अपनी राय पेश की है और इसे सराहते हुए एक नायाब तोहफा माना है। अमेरिका में निवास करने वाले उर्दू साहित्यकार अबलु हसन अली नगमी ने भी इस किताब पर एक लेख लिखकर इसे उर्दू अदब को बेश कीमती खजाना बताया है। अब तक एक सौ से अधिक साहित्यकारों ने किताब ‘‘अक्से मारिफत‘‘ पर लेख लिखे हैं, कई उर्दू अखबारों में किताब पर तब्सरा प्रकाशित हो चुका है। उर्दू अकादमी से पुरस्कार की घोषणा होने के बाद किताब ‘‘अक्से मारिफत‘‘ का महत्व और अधिक बढ़ गया है।उर्दू अकादमी से पुरस्कार मिलने की खबर मिलते ही उर्दू प्रेमियों में हर्ष की लहर देखने को मिल रही है। बड़ी संख्या में लोग मस्त हफीज रहमानी को मुबारकबाद पेश कर रहे है। मसत हफीज रहमानी के बड़े बेअे खुश्तर रहमान खाँ ने बताया है कि ‘‘अक्से मारिफत‘‘ पर लिखे गए एक सौ से अधिक लेखों में से चुनिन्दा लेखों को संग्रहीत कर एक पुस्तक जल्द ही प्रकाशित किये जाने का काम तेजी से चल रहा है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक