फांसी पर लटका मिला चूड़ी कारोबारी का शव


 पत्नी की विदाई न करने की धमकी बनी मौत का सबब

हरदोई। शहर का एक चूड़ी कारोबारी का शव उसी के घर के अंदर फांसी पर लटकता हुआ पाया गया। इस बारे में बताया गया है कि कारोबारी की पत्नी मायके में थी। ससुर ने उसे विदा न करने की धमकी दी थी। इसी के चलते उसने मौत को गले लगा लिया। पुलिस जांच कर रही है। बताया गया है कि कोतवाली शहर के मोहल्ला ऊंचा थोक निवासी 34 वर्षीय परवेज़ पुत्र निसार अहमद का अपने दो भाइयों में छोटा था। परवेज़ शहर के डाॅ0 रामदत्त चैराहा पर चूड़ी की दुकान चलाता था। गुरुवार की शाम परवेज का शव घर के अंदर कमरे में फांसी पर लटकता हुआ देखा गया। इसका पता चलते ही वहां आस-पास खलबली मच गई। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए कब्ज़े में ले लिया। इस बारे में बताया गया है परवेज़ की शादी करीब एक साल पहले कासिमपुर थाने के गौसगंज निवासी मोइनुद्दीन की पुत्री उज़्मा के साथ हुई थी। उज़्मा के पहला प्रसव होने को था। जिसके चलते वह काफी समय से अपने मायके मे थी। इस दौरान परवेज़ और उज़्मा के बीच अक्सर फोन पर बातचीत हुआ करती थी। परवेज़ के घर वालों ने बताया है कि उसके ससुर मोइनुद्दीन ने उज़्मा की विदाई करने से साफ इंकार कर दिया था। उसी के बाद से परवेज उदास रहने लगा था। कारोबार में भी उसका मन नहीं लगता था। घर वालों से भी उसने बोलना-चालना बंद कर दिया था। माना जा रहा है कि इसी के चलते परवेज़ ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उसकी इस तरह हुई मौत से उसके घरवालों का रो-रो कर बुरा हाल है। शुक्रवार को पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव उसके घरवालों के सुपुर्द कर दिया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक