बिग बॉस फेम उर्फी जावेद मुस्लिम से शादी नहीं करेंगी

 


कहा- मुसलमान औरतों को कंट्रोल में रखना चाहते हैं, इसलिए मेरा इस्लाम पर विश्वास नहीं रहा

बिग बॉस ओटीटी से सुर्खियों में आईं उर्फी जावेद ने शादी को लेकर अपने विचार मीडिया से शेयर किए हैं। जन्म से मुस्लिम उर्फी का कहना है कि वो किसी भी मुस्लिम से शादी नहीं करेंगी। उन्होंने अपने फैसले की पीछे की वजह भी बताई है।

उर्फी ने एक इंटरव्यू में कहा कि मुस्लिम मर्द अपनी औरतों को हमेशा कंट्रोल में रखना चाहते हैं। इस वजह से ही वे इस्लाम में यकीन नहीं करतीं। उन्होंने कहा, 'मुझे ट्रोल करने वाले ज्यादातर लोग मुस्लिम ही होते हैं। ज्यादातर नफरत भरे कमेंट भी उन्हीं के होते हैं। उन्हें लगता है कि मैं इस्लाम की छवि खराब कर रही हूं। वे मुझसे नफरत करते हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि वे किसी धर्म को फॉलो नहीं करती हैं। उन्हें इस बात की परवाह नहीं है कि वे किससे प्यार करती हैं या भविष्य में शादी करेंगी।

धर्म थोपा नहीं जा सकता
उर्फी का मानना है कि धर्म को थोपा नहीं जाना चाहिए। सभी को किसी भी धर्म का पालन करने की आजादी होनी चाहिए। उर्फी ने बताया- 'मेरे पिता बहुत ही छोटी सोच रखने वाले थे। जब मैं 17 साल की थी, तब उन्होंने मुझे, मेरे भाई-बहनों और मां को छोड़ दिया। मेरी मां बहुत धार्मिक थीं। लेकिन उन्होंने हम पर कभी धर्म नहीं थोपा।'

मेरे भाई-बहन इस्लाम को मानते हैं, लेकिन मैं नहीं। उन्होंने मुझ पर कभी दबाव नहीं डाला। आप कभी भी अपनी पत्नी और बच्चों को धर्म अपनाने का दबाव नहीं डाल सकते हैं, यह दिल से आना चाहिए। वरना न तो आप खुश होंगे न ही अल्लाह।

भगवद् गीता पढ़ रही हैं उर्फी
एक्ट्रेस ने आगे बताया कि वे इन दिनों भगवद् गीता पढ़ रही हैं। उन्होंने कहा, 'मैं हिंदू धर्म के तार्किक पक्षों के बारे में और ज्यादा जानने की इच्छा रखती हूं। किसी भी चीज की अति से मुझे बेहद नफरत है, इसलिए मैं इस पवित्र किताब से अच्छी बातें निकालना चाहती हूं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक