सीएससी केन्द्रों पर निःशुल्क बनेंगे असंगठित श्रमिकों के यूनिक आईडी कार्ड-अचला पाण्डेय


 हरदोई।
सहायक श्रमायुक्त अचला पाण्डेय ने बताया है कि सीएससी केन्द्रों के माध्यम से अब देशभर के सभी असंगठित श्रमिकों के यूनिक आईडी कार्ड ई-श्रम पोर्टल के माध्यम से बनाएं जायेंगे। मंत्रालय के अनुसार देश भर में 43.07 करोड़ असंगठित श्रमिक विभिन्न क्षेत्रों में काम कर रहे है। श्रमिकों के कार्य की प्रकृति के अनुसार वर्ग विभाजन कर खाका तैयार किया जा रहा है, ताकि इनके उत्थान के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं बनाकर उन्हे क्रियान्वित किया जा सके। जनपद की बात करे तो जनपद के नाम हजारों असंगठित श्रमिक है, जिनकों पंजीकृत सी0एस0सी0 केन्द्रों के माध्यम से किया जायेगा। यह पंजीकरण निःशुल्क किये जायेगे। उन्होने बताया है कि पंजीकरण के लिए छोटे किसान, कृषि क्षेत्र में लगे मजदूर, पशुपालक, मछली विक्रेता, मोची, ईट-भट्ठों पर काम करने वाले, घरों में काम करने वाले, रेहड़ी-फड़ी वाले, न्यूज पेपर, वेंडर, रिक्शा व आॅटो रिक्शा संचालक, मनरेगा वर्कर, दूध विक्रेता, स्थानान्तरित लेबर, नाई, आशा वर्कर, चाय विक्रेता व ऐसे मजदूर जो कि किसी संगठन के साथ नही जुड़े है सभी के यूनिक आईडी कार्ड बनवा सकते है। जिसके लिए श्रमिक की आयु 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आवेदक का ईपीएफ खाता नही होना चाहिए और ना आयकर का भुगतान करता हो। आवेदक किसी भी असंगठित समूह या संस्था का सदस्य नही होना चाहिए। जिसके लिए आवेदक के पास आधार कार्ड, बैंक खाता, राशन कार्ड और मोबाइल नम्बर होना अनिवार्य है। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक