रेट्रोरिफ्लेक्टिव टेप लगवाने पर सक्रिय हुआ विभाग अवैध वाहनों के विरूद्ध की गयी कार्यवाही


 सीतापुर। परिवहन विभाग द्वारा वाहनो पर टोल प्लाजा, खैराबाद चैराहा, काशीराम काॅलानी, सिधौली व हरगांव पर रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप लगाने की कार्यवाही की गयी एवं रेट्रो रिफलेक्टिव टेप लगाने का अभियान चलाया गाय जिसके अन्तर्गत 17 ट्रकों, 52 ट्रैक्टर ट्रालियों सहित 69 से अधिक वाहनो पर रिफ्लेक्टर लगवाये गये साथ ही 09 बिना रेट्रो रिफलेक्टिव टेप लगे वाहनो का चालान किया गया व जनपद के समस्त चीनी मिलो को गन्ने के ढुलान में प्रयुक्त होने वाले वाहनों विशेषकर ट्रैक्टर ट्रालियों में रेट्रो रिफलेक्टिव लगवाने व पीछे लाल कपड़ा अवश्य बांधने हेतु निर्देशित किया। इस दौरान एआरटीओ (प्रवर्तन) डा0 उदित नारायण द्वारा समस्त वाहन चालको/स्वामियो से अपील की गयी कि कोहरे के दृष्टिगत अपने वाहनो में मानक के अनुसार रेट्रो रिफलेक्टिव टेप अवश्य लगवाये बिना रेट्रो रिफलेक्टिव टेप के पकड़े जाने पर रू0-10000/-जुर्माना आरोपित किया जायेगा। साथ ही एआरटीओ ने बताया कि कोहरे की वजह से सड़क पर दृश्यता कम हो जाती है जिससे सड़क हादसे की सम्भावना भी बढ़ जाती है। धुंध या कोहरे में वाहन चलाते समय अतिरिक्त सावधानी रखनी चाहिए जिससे दुर्घटना न हो। वाहन चलाते समय निम्न सावधानियां अवश्य रखनी चाहिए।तेज रफ्तार में गाड़ी चलाने से बचें, धीमी या औसत गति पर चले तथा अगले वाहन से तीन सेकेण्ड की दूरी बनाकर रखे। कोहरे में ड्राईविंग करते समय संगीत बन्द कर दें और हार्न सुनने के लिये लगातार चैकन्ना रहे। वाहन चलाते समय अपनी ही लेन पर चले कोहरे में अनेको बार लेन बदलना भी खतरानक साबित होता है। वाहन में रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप का प्रयोग अवश्य करें। कार के हेड लाईट को लो बीम पर रखे हो सके तो फाॅग लैम्प का इस्तेमाल करें। ठंडे मौसम में गाड़ी के शीशे में नमी जमा हो जाती है जिससे ड्राईवर को कुछ दिखायी नही देता ऐसी स्थिति में हीटर चलाकर इस नमी को दूर किया जा सकता है। दोनो इन्डीकेटर आॅन करते हुए ड्राईविंग न करें। इसका इस्तेमाल तभी करें जब आपकी कार रूकी हो। ओवर टेक करते समय दुर्घटना का खतरा बढ़ जाता है इसलिये कोहरे के समय ओवर टेक करने में विशेष सावधानी बरते। अपनी गाड़ी के विन्ड स्क्रीन, वाइपर, बैट्री, इंजन आॅयल, ब्रेक और टायर जैसे जरूरी पार्ट अवश्य चेक कर लें कि ये ठीक तरह से काम कर रहे है या नही। यदि गाड़ी बीच सड़क पर खराब हो जाये तो गाड़ी से तुरन्त बाहर निकल आये और करीब 50 मीटर दूर से ही गाड़ियां उचित संकेतक लगाकर ही रूकवाने का प्रयास करें। पैदल व साइकिल सवार भी सड़क पर चलते समय विशेष सावधानी बरते साथ ही सड़क पार करते समय पहले किनारे पर रूकें, दायें, बायें दायें देेखें, हार्न सुनें तथा सुरक्षित होने पर ही सड़क पार करें। किसी भी आपात सहायता के लिये 112 व 108 नम्बर डायल कर मद्द ली जा सकती है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक