बिगड़ रही आमरण अनशन कर रहे ग्रामीणों की हालत


 
मिश्रित सीतापुर / विकासखंड मिश्रित की ग्राम पंचायत कोहरावां के मजरा अरसेहड़ा निवासी सुरेश कुमार मिश्र ,  गिरजा शंकर मिश्र अपात्रों को दिए गए आवास व शौंचालय आदि की जांच को लेकर दिनांक 16 दिसम्बर से अरसेहड़ा गांव के बाहर प्राथमिक विद्यालय के निकट भूख हड़ताल पर डट गए थे । प्रशासनिक उपेक्षा के चलते अन्य ग्रामीण पुनीत मिश्रा , राजबहादुर मिश्रा , राधेलाल गौतम , शशी देवी , गुलशन देवी , सहित सात लोग दिनांक 21 तारीख से आमरण अंशन पर डट गए है । हालांकि आज इस आमरण अंशन का सातवा दिन है । दो महिलाओं की हालत की हालत काफी बिगड़ चुकी है । स्वास्थ्य अधीक्षक आशीष सिंह ने सभी अंशन कारियों की आज मेडिकल जांच कराई । जिसमे दो महिलाओं की हालत जादा खराब निकली । उन्होने चिकित्सालय लाने हेतु एम्बुलेंस भी भेजी थी । परन्तु अंशनकारी जिला प्रशासन के मौके पर आने और जांच करके समस्याओं का समांधान करने की बात कहते रहे । हालांकि वीडियो प्रतीक व एडिओ पंचायत अमित चतुर्वेदी मौके पर आए लेकिन व वह अंशन कार्यों को सन्तुष्ट नही कर सके । जिससे सभी अंशनकारी बराबर आमरण अंशन पर डटे हुए है । वर्तमान समय कड़ाके की ठंड पड़ रही है । अंशन कारियो की हालत में काफी गिरावट आ गई है । जिससे  कभी कोई अप्रिय घटना घट सकती है । लेकिन इसका जिम्मेदार क्या ब्लाक प्रशासन , तहसील प्रशासन व जिला प्रशासन होगा  ?

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक