मछरेहटा में मनाया गया आजादी का अमृत महोत्सव

  



मछरेहटा/सीतापुर स्वतंत्रता का 75 वां अमृत महोत्सव कार्यक्रम बड़ा हनुमान मंदिर मछरेहटा में आयोजित किया गया।जिसकी अध्यक्षता केदार नाथ शुक्ल ने की वही संचालन महेंद्र पांडे प्रखंड प्रमुख विश्व हिंदू परिषद ने किया इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि स्वामी पद्मनाभ राष्ट्रीय गौ रक्षा समिति सीतापुर के अध्यक्ष रहे ।वही विशिष्ट अतिथि राजकुमार तिवारी आर एस एस विभाग कार्यवाह रहे । कार्यक्रम के शुभारंभ में सभी उपस्थित अतिथियों के द्वारा भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण व डीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए ।विशिष्ट अतिथि राजकुमार तिवारी ने कहा कि आजादी के 75 वर्षो के पश्चात अमृत महोत्सव में हमारा भारत वर्ष देवो के द्वारा निर्माण किया गया है हमारे देश में हमारी भारत माता अपने पुत्रों तगह देश वासियों को फल फूल वनस्पति अन्न जल से परिपूर्ण दिया है ।इस देश के निवासियों को किसी के आगे याचना करने की आवश्यकता नही है इस दौरान उन्होंने 1857 ,1885 ,1947 इन तीन काल खण्डों की बात रखते हुए प्लासी के युद्ध की बात की वही मीर जाफर और मां सिंह जैसे लोगो की बहुत भत्सर्ना की और यह भी बताया कि भारत बहुत पहले आजाद हो गया होता वही भारत के महान योद्धा महाराण प्रताप मंगल पांडे चंद्र शेखर आजाद सरदार भगत सिंह के जीवन पर प्रकाश डाला यह भी बताया कि एक हजार वर्ष के संघर्ष के पहले हिंदुओ को हमारे देश मे मंदिर में पूजा करने के लिए जाजिया कर देना पड़ता था ।वही पर आतातायी गजनवी जैसे आक्रांताओं की बात बताई और देश की बाली वेदी पर चढने वाले देश के वीर सपूतों को याद किया ।और उन्होंने यह बताया कि अमृत महोत्सव वीरो की याद में मनाया जा रहा है मुख्य अतिथि स्वामी पद्मनाभ ने अपने वक्तय में प्रधान मंत्री मोदी जी को धन्यवाद देते हुए कहा कि आज विश्व स्तर पर हमारी योग विद्या को रखा जिसको 200 देशो ने स्वीकार किया और धारा 370 व सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हुए बलिदानियों यादों को ताजा किया ।और उन्होंने यह भी कहा कि अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम कॉरिडोर जो लाये है हम सब उन्ही के साथ है ।उपस्थित अध्यक्ष केदार नाथ शुक्ल ने अपने वक्तव्य में उपस्थित राष्ट्र भक्तों को समर्पित राष्ट्रभावना से तुलसी की चौपाई सीयराम मय सब जग जानी से प्रणाम करते हुए कहा साक्षी इतिहास हमारा वीरता की चुनौती  है बताया कि जिन्होंने हमारे देश से लोहा लिया उन देशों को मुह की खानी पड़ी ।

इस अवसर पर महन्त बाबा प्रीतम दास ,आशीष बाजपेयी ,जयकार नाथ शुक्ला ,केपी सिंह अंजनी शुक्ल प्रेम सागर पांडे ,गंगा प्रकाश सिंह ,दयाशंकर एडवोकेट ,मनोज रावत ,बनारशी लाल गुप्ता ,राम चन्द्र गुप्ता, महेश राजपूत,और सैकड़ो की संख्या में राष्ट्र प्रेमी उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक