धरती को प्रदूषण मुक्त बनाने के संकल्प के साथ जियोफेस्ट इण्टरनेशनल सम्पन्न


 लखनऊ
, 19 दिसम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, जाॅपलिंग रोड कैम्पस एवं राजाजीपुरम (द्वितीय कैम्पस) के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित पाँच दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय भूगोल ओलम्पियाड ‘जियोफेस्ट इण्टरनेशनल-2021’ धरती को हरी-भरी बनाने के संकल्प के साथ आज सम्पन्न हो गया। आज आॅनलाइन आयोजित पुरस्कार वितरण व समापन समारोह में ओलम्पियाड के विजयी छात्रों को आॅनलाइन प्रजेन्टेशन द्वारा सम्मानित किया गया तो वहीं दूसरी ओर देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों, शिक्षकों व अन्य गणमान्य अतिथियों के सम्मान में सी.एम.एस. छात्रों ने रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों के प्रस्तुतिकरण से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।  

विदित हो कि 15 से 19 दिसम्बर तक आयोजित इस पाँच दिवसीय ओलम्पियाड में रूस, श्रीलंका, नेपाल, आयरलैण्ड, स्विटजरलैण्ड एवं भारत के विभिन्न राज्यों के छात्रों ने बड़े उत्साह से प्रतिभाग किया और विभिन्न रोचक व ज्ञानवर्धक प्रतियोगिताओं के माध्यम से न सिर्फ ज्ञान-विज्ञान का आलोक बिखेरा अपितु प्रकृति प्रदत्त संसाधनों के विवेकपूर्ण उपयोग व स्वच्छ व शुद्ध वातावरण का अभूतपूर्व अलख जगाया।

समापन समारोह में देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों को आशीर्वाद देते हुए सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि इस ओलम्पियाड के माध्यम से विभिन्न देशों के छात्रों के बीच सौहार्द एवं सहयोग का जो वातावरण निर्मित हुआ है, यही आगे चलकर विश्व एकता की आधारशिला बनेगा। सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण यह है कि इस ओलम्पियाड में सभी प्रतिभागी छात्रों ने कुछ न कुछ सीखा, जो भविष्य में सारी मानवता के लिए काम आयेगा। उन्होंने छात्रों को उज्जवल भविष्य की हार्दिक शुभकामनाएं दी। जियोफेस्ट इण्टरनेशनल-2021 की संयोजिका व सी.एम.एस. जाॅपलिंग रोड कैम्पस की प्रधानाचार्या श्रीमती शिप्रा उपाध्याय ने कहा कि हमें पूर्ण विश्वास है कि यह छात्र एक नये समाज की रचना करेंगे और धरती को हरा-भरा करने का हमारा सपना पूरा करेंगे। ओलम्पियाड की सह-संयोजिका व सी.एम.एस. राजाजीपुरम (द्वितीय कैम्पस) की 

प्रधानाचार्या श्रीमती अनुपमा चेकर ने सभी के प्रति हार्दिक धन्यवाद ज्ञापित किया।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक