ग्रामसभा बरियापुर में निकला घोटालो का जिन्न

 


हैण्डपम्प मरम्मत के नाम पर लगाया गया लाखों रूपये का चूना

रामपुर मथुरा सीतापुर।  जहां मोदी और योगी सरकार गांव के गरीबों व किसानों झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले परिवारों के लिए रोटी कपड़ा और मकान पेयजल व्यवस्था के लिए सदैव तत्पर है वही रामपुर मथुरा विकासखंड के अंतर्गत कुछ ग्राम पंचायतों में ग्राम विकास अधिकारी ग्राम पंचायत को लूटने में लगे हुए हैं सिर्फ कागज पर फर्जी कार्य दिखाकर फर्जी बाउचर लगाकर लाखों रुपए गमन किए गए हैं जीता जागता उदाहरण ग्राम पंचायत बरियारपुर का है जहां पर इंडिया मार्का हैंडपंप मरम्मत के नाम पर लाखों रुपए का सरकार को चूना लगाया गया है जबकि हकीकत यह है की ग्राम पंचायत में नल मरम्मत किए ही नहीं गए ग्रामीणों की सूचना पर संवाददाता द्वारा ग्राम पंचायत बरियारपुर का मौका देखा गया तो वहां पर कुछ इस तरह से नजर आया ?सामुदायिक शौचालय के पास के नल में पानी खराब आ रहा है ,विद्या के घर के पास 1 वर्ष से नल खराब पड़ा है, खुशी के घर के पास 1 वर्ष से खराब पड़ा है, सुमिरन के घर के पास 2 वर्ष से खराब पड़ा है, रामनरेश के दरवाजे पर 2 वर्ष से नल खराब पड़ा है, सादिक अली ने बताया मेरे दरवाजे के नल से दो पाइप मिस्त्री द्वारा निकाल लिए गए थे फिर भी पानी खराब आ रहा है श्यामलाल ने बताया मेरे दरवाजे के नल से तीन पाइप निकाल ले गए थे नल खराब पड़ा है,भवानीपुर के मंदिर पर नल खराब पड़ा है चकदहा विद्यालय के पास तथा मेला  नल में काफी देर चलाने के बाद पानी आता है दंडी बाबा ने बताया कि जो रोड के किनारे नल लगा है चयन टूटी है कोई देखने वाला नहीं है वहीं पूर्व माध्यमिक विद्यालय चकदहा में नल लगा है मास्टर ने बताया देर से चलाने पर पानी आता है नल खराब है मठ पुरवा मैं देशराज के घर के पास  2 वर्ष से नल खराब पड़ा है  लालता प्रसाद के घर के पास 1 वर्ष से नल खराब पड़ा है चकदहा चैकी मेन रोड पर 1 वर्ष से नल खराब पड़ा है स चकदहा में रमेश के घर के पास काफी चलाने के बाद देर में पानी आता है 1 वर्ष पूर्व बना था उत्तम के दरवाजे के पास नल खराब पड़ा है राजेश के घर के पास नल खराब पड़ा है स इंडिया मार्का हैंड पंप मरम्मत के नाम पर लाखों का घोटाला । वही विश्वस्त सूत्रों से ज्ञात हुआ ग्राम पंचायत में खड़ंजा मरम्मतीकरण के नाम पर भी लाखों रुपयों का घोटाला कोई भी खड़ंजा मरम्मत नहीं किया गया बात यहीं खत्म नहीं होती कोविड-19 जैसी महामारी में वॉल पेंटिंग के नाम पर भी रुपए निकाले गए कहीं पर भी वॉल पेंटिंग नहीं कराई गई तथा सेनीटाइजर खरीद व  छिड़काव पर भी काफी घोटाला किया गया प्रशासनिक व्यय तथा शौचालय मरम्मत में भी काफी घोटाला के सूत्र मिल रहे हैं स जब इस संबंध में ग्राम विकास अधिकारी दिलीप सिंह से बात की गई तो बताने से कतराते रहे । वहीं जब इस संबंध में सहायक विकास अधिकारी से बात की गई तो बताया ग्राम पंचायत से कोई शिकायत नहीं मिली है शिकायत मिलने पर कार्यवाही की जाएगी । 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक