पीयूष जैन को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया, 194 करोड़ से ज्यादा की बरामद हुई नकदी


 
नयी दिल्ली। कानपुर जिले में छापे के दौरान 194 करोड़ से ज्यादा की नकदी मिलने की घटना से सुर्खियों में छाए कारोबारी पीयूष जैन को महानगर मजिस्ट्रेट कारपोरेशन की अदालत ने 14 दिनों के न्यायिक हिरासत में भेजा है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, कारोबारी पीयूष जैन पर 31.50 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी का आरोप है। जिसके बाद रविवार को उन्हें गिरफ्तार किया गया। इस दौरान एक तस्वीर सामने आई थी, जिसमें करोड़ों रुपए की नकदी रखने वाले पीयूष जैन को सभी ने जमीन पर एक कंबल के सहारे काकादेव थाने की फर्श पर सोते हुए देखा। दरअसल, पीयूष जैन को गिरफ्तारी के बाद काकादेव थाने पर पूछताछ के लिए लाया गया था। 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कानपुर की एक अदालत ने व्यवसायी पीयूष जैन को उनके आवास पर छापेमारी के बाद 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा, जिसमें 194.45 करोड़ रुपए से अधिक नकदी, 23 किलोनाम न उजागर करने की शर्त पर एक वरिष्ठ अधिकारी ने समाचार एजेंसी भाषा को बताया कि गुरुवार को कानपुर, गुजरात और मुंबई में कई ठिकानों पर छापेमारी शुरू की गई थी। उन्होंने कहा कि कर अधिकारियों ने शहर में पान मसाला और अन्य सुगंधित तंबाकू उत्पादों के शिखर ब्रांड के निर्माण कारखाने पर भी छापा मारा। अधिकारी ने बताया कि रिहायशी परिसरों में छापेमारी के दौरान भारी मात्रा में कागज में लिपटी नकदी बरामद हुई है। जिसकी गिनती जारी है।ग्राम सोना, 600 किलोग्राम चंदन की लकड़ी बरामद हुई।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक