दिव्यांग और विधवा से तीस हजार लेकर दिया पीएम आवास प्रधान और सेक्रेट्री पर गम्भीर आरोप

 


शाहाबाद हरदोई ।
सरकार गरीबों और बेघर लोंगों को प्रधानमंत्री आवास देकर उन्हें सम्मान से जीने का अधिकार देना चाहती है लेकिन जिम्मेदार दिव्यांग और विधवाओं को से भी वसूली करने में कोई संकोच नही करते। ऐसा ही एक मामला ब्लाक शाहाबाद की ग्राम पंचायत गहोरा का है जहां ग्राम प्रधान और सचिव ने दिव्यांग और विधवा महिला पात्र लाभार्थियों से जमकर वसूली की। ब्लॉक की ग्राम पंचायत गहोरा में ग्राम प्रधान रामलोटन व प्रधान प्रतिनिधि ज्ञानेश मिश्रा ने सचिव से सांठगांठ कर पीएम आवास योजना में 30-30 हजार रुपए लाभार्थियों से बसूल किए। गहोरा निवासी दिव्यांग संजेश ने बताया कि वह आंखों से अंधा है तथा बर्षों से झोपड़ी में रह रहा था। पिछली प्रधानी में उसका नाम आवास योजना में आया था लेकिन उसके खाते में पैसा आने के समय दूसरे प्रधान बन गए। लेकिन आवास में रिश्वत 20 हजार के बजाय 30 हजार ली गयी। पीड़ित लाभार्थियों का आरोप है कि प्रधान रामलोटन व प्रधान प्रतिनिधि ज्ञानेश मिश्रा ने उससे कहा कि यदि रुपए नही दोगे तो आवास कटवा देने की धमकी देकर उससे 30 हजार रुपए ले लिए। वहीं गांव निवासी महिला रूपरानी ने बताया कि प्रधान व प्रधान प्रतिनधि और सचिव ने पहली किस्त में 20 हजार व दूसरी क़िस्त में 10 हजार रुपए लिए। इस तरह ग्राम पंचायत में जिम्मेदारों द्वारा आवासों के नाम मोटी रकम की बसूली होती रहेगी।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव