अपना हक पाने के लिए विधिक सेवा प्राधिकरण से निःशुल्क लें सलाह व परामर्श:एडीएम


 पीड़ित, गरीब लोगों व महिलाओं को प्राधिकरण निःशुल्क अधिवक्ता की व्यवस्था देता है-सचिव

हरदोई। राष्ट्रीय महिला आयोग एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान मेे 02 अक्टूबर  से 14 नवम्बर तक चलने वाले आजादी का अमृत महोत्सव माह के अन्तर्गत तहसील सदर के सभागार में विधिक सेवा प्राधिकरण शिविर का उद्घाटन मुख्य अतिथि एडीएम वन्दना त्रिवेदी एवं विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव अलका पाण्डेय ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलन कर किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने उपस्थित महिलाओ, युवतियों एवं छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि वह नारी शक्ति को पहचाने और समाज में पुरूषों के बराबर हक पाने के लिए विधिक सेवा प्राधिकरण से निःशुल्क सलाह एवं परामर्श प्राप्त करें। उन्होने कहा कि समाज में फैली दहेज प्रथा, भ्रूण हत्या, महिला व बालिका उत्पीड़न जैसी कुतियों का विरोध करें और इस प्रकार की कहीं भी घटना होने पर सूचना तत्काल अपने बड़ों के साथ पुलिस एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों को दें। शिविर में एडीएम ने एक भक्ति गीत के माध्यम से नारी शक्ति का वर्णन करते हुए उपस्थित महिलाओं को जागरूक किया। कार्यक्रम में विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव ने कहा कि विधिक सेवा का मतलब है कि आम जनमानस को समस्त विधिक जानकारी निःशुल्क देना और इसी के तहत पीड़ित गरीब असहाय लोगों एवं महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए प्राधिकरण की ओर से निःशुल्क अधिवक्ता की व्यवस्था दी जाती है। उन्होने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद की सभी तहसील, ब्लाक, ग्राम पंचायतों एवं मजरों में शिविर तथा डोर टू डोर अभियान चलाकर लोगों को विधिक जानकारी के साथ सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी भी उपलब्ध कराई गयी है। श्रीमती पाण्डे ने महिलाओं, युवतियों व छात्राओं से कहा कि आज का शिविर विशेष कर महिलाओं के बारे आयोजित किया जा रहा है और यहां से विधिक सेवा एवं अन्य विभागों से प्राप्त जानकारी को अपने गांव तथा मोहल्ले के लोगों को भी दें। तहसीलदार सदर प्रतिक त्रिपाठीने शिविर में उपस्थित मुख्य अतिथि विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव आदि अधिकारियों का आभार व्यक्त किया। शिविर में जिला प्रोबेशन अधिकारी सुशील कुमार सिंह, जिला सूचना अधिकारी संतोष कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी राजमती, सीडीपीओ टड़ियावा कुमुद मिश्रा सहित आशा, आंगनबाड़ी, नेहरू युवा केन्द्र आदि की महिलायें, युवतियां एवं विभिन्न विद्यालयों की छात्राओं ने प्रतिभाग किया।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव