व्यापारी पुत्र पर हुए जानलेवा हमले को भी हल्के में ले रही पुलिस

 


शाहाबाद हरदोई।
हाइवे पर फिर एक बड़े व्यापारी के पुत्र पर जानलेवा हमला होने से व्यापारियों में अत्यंत भय व आतंक व्याप्त है। भले पुलिस के बहकावे में आकर खुलमखुल्ल्ला बोलने की बजाय व्यापारीगण दबी जुबान पुलिस की लापरवाही पर आग बबूला हैं। कस्बे के व्यापारियों सहित व्यापार मण्डल अध्यक्ष का कहना है कि अज्ञात हमलावरों की शीघ्र गिरफ्तारी होना चाहिए। ताकि व्यापारियों का पुलिस के प्रति विश्वास बना रहे। उ0प्र0व्यापार मंडल अध्यक्ष सर्वेश गुप्ता ने कहा कि हमें घटना की जानकारी है। हालांकि अभी यह नहीं मालुम हुआ कि रिपोर्ट दर्ज हुई है या अभी नहीं। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण व्यापार मंडल नवीन जी के साथ है। यदि समुचित कार्यवाही नहीं होगी तो व्यापार मण्डल आगे की रणनीति तैयार करेगा। दरअसल दिनांक 20 नवम्बर  को शाहजहांपुर हाइवे मार्ग पर हरियाली पेट्रोल पंप के सामने सड़क किनारे खड़े 2 अज्ञात अराजकतत्वों ने एक व्यापारी पुत्र निर्मल प्रकाश की बाइक को रोंक लिया। वह वहीं चन्द कदम दूर स्तिथि अपने धर्मकांटे एवं बिलिं्डग मैटेरियल की दुकान से वापस अपने घर नगर के मोहल्ला दिलेरगंज आ रहा था। उसकी बाइक पर पीछे 1 करीब 9 साल का लड़का बैठा था जो कि धर्मकांटे एवं दुकान पर मजदूरी करने बाले किसी व्यक्ति का था। जैसे ही अज्ञात युवकों ने  बाइक रोककर व्यापारी पुत्र पर हमला किया कि बाइक पर पीछे बैठा मजदूर का पुत्र बाइक से कूदकर धर्मकांटे की ओर भागता हुआ चीखने चिल्लाने लगा। तभी उधर एवं आसपास से कई लोग दौड़कर मौके पर पहुँच गये। जिस कारण हमलावर भाग गए। अज्ञात युवकों के हमले में घायल व्यापारी पुत्र निर्मल ने घटनास्थल से 112 नंबर पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी लेकिन पुलिस पहुँचने में देरी होते देख घायलावस्था में उसके पिता आदि ने उसे घटनास्थल से उठाकर सीएचसी पहुँचाया। जहाँ से प्राथमिक उपचार के बाद उसे लखनऊ ले जाया गया था। हालांकि अब वह घर वापस आ गया है। इधर कोतवाली में दी गई तहरीर पर प्रभारी निरीक्षक सुरेश कुमार मिश्रा ने बताया कि एफआईआर दर्ज हो गई है। जानकारी की जा रही है। घायल युवक के पिता एवं कस्बे के बड़े व्यवसायी नवीन प्रकाश गुप्ता द्वारा दी गई तहरीर में कहा गया है कि उनकी धर्म कांटा एवं दुकान अल्लाहपुर हरियाली पेट्रोल पंप के सामने है। धर्म कांटे पर पैसों को लेकर अक्सर कहासुनी होती रहती है। जिसमें उनके पुत्र को भी जाना पड़ता है। कल दिनांक 19ः11ः20 21 को शाम 7ः30 बजे उनका पुत्र निर्मल प्रकाश दुकान बंद करके घर वापस आ रहा था। कि हरियाली पेट्रोल पंप के पास जब पहुंचा तो उनके पुत्र पर जानलेवा हमला कर दिया। उन अज्ञात लोगों ने जान से मारने की नीयत से उनके पुत्र पर तमंचे से फायर किया। जिससे उनका पुत्र बाइक से नीचे गिर गया। उसके बाद उन लोगों ने धारदार हथियार एवं लाठी-डंडों से हमला कर उनके पुत्र को घायल कर दिया। आसपास के लोगों ने दौड़कर उसे बचाया तो हमलावर जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गए। पीड़ित पिता ने यह भी बताया कि चैकी इंचार्ज जामामस्जिद घटना के बाद मेरे घर आए थे और पूंछताछ कर वापस चले गए। उनकी बात से सिद्ध हो रहा है कि चैकी के वहुचर्चित दारोगा ने घटनास्थल पर तत्काल पहुँचना जरूरी नहीं समझा। उच्चाधिकारियों की मेहरबानी के कारण इधर पुलिस की लापरवाही और अवैध धनउगाही बढ़ती जा रही है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक