अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा विलेज हाट बाजार, जिम्मेदार बेखबर


 हरपालपुर 
हरदोई। विकास खंड हरपालपुर के अंतर्गत निर्मित विलेज हाट अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा हैं। स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा उत्पादित सामान की एक साथ बिक्री के लिए बाजार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से लाखों रुपये की लागत से तैयार किए इस विलेज हाट की ओर न तो अधिकारी ध्यान दे रहे हैं और न ही समाजसेवी संस्थाएं। दिलचस्प तो यह हैं कि आज तक उद्घाटन की रस्म अदायगी तक नहीं हो सकी हैं। इस तरह से जहां सरकार की मंशा पर पानी फेरा जा रहा है। वहीं, लाखों रुपये पानी में बहते दिखाई दे रहे हैं। वित्तीय वर्ष 2009-10 में स्वर्ण जयंती स्वरोजगार योजनांतर्गत स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा उत्पादित सामान की बिक्री के लिए बाजार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 15 लाख रुपये की लागत से विलेज हॉट का निर्माण कराया गया। इसमें सामान रखने के लिए कुछ जगहों पर बाकायदा दुकानें बनाई गई। साथ ही बिक्री के लिए टीन शेड डाला गया। लेकिन अधिकारियों की उदासीनता के चलते न तो आज तक विलेज हाट का उद्घाटन ही हो सका और न ही दुकानों का संचालन अलबत्ता हॉट जर्जर स्थिति में पहुंच चुका हैं। टीन शेड भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। ऐसा नहीं हैं कि विकासखंड में महिला स्वयं सहायता समूह नहीं हो। यहां सैकड़ों की संख्या में महिला समूह चल रहे और कई तो सामान भी तैयार कर रहे लेकिन इस ओर विभागीय अधिकारियों के ध्यान नहीं देने से सरकार की मंशा पर पानी फिरता दिखाई दे रहा हैं। वहीं, समाजसेवी संस्थाएं भी इस ओर ध्यान नहीं दे रही हैं। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक