अघोषित इमरजेंसी जैसा है भाजपा का शासन:राजपाल कश्यप

 


पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में बूथ कार्यकर्ताओं के सम्मान में हुई पुष्प वर्षा

शाहाबाद। समाजवादी नेता पूर्व विधायक आसिफ खाँ बब्बू के आवास पर आयोजित पिछड़ा वर्ग सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि समाजवादी पार्टी पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष एवं सदस्य विधान परिषद राजपाल कश्यप ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का शासन अघोषित इमरजेंसी जैसा है जिसमे लोकतंत्र मजाक उड़ाया जाता है।इनका मंत्री किसानो को धमकी देता है और मंत्री का बेटा बेबस किसानों पर गाड़ी से कुचल कर मार देता है।और विरोध के लिये जाने वाले नेताओं को गिरफ्तार करवाते है। इससे पता चलता है सरकार भयभीत है।भारतीय जनता पार्टी हम लोगों को जातियों के नाम पर आपस में लड़ा कर वोट हासिल करना चाहती है,लेकिन हम लोगों को सचेत रहने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि 2022 के चुनाव में यूपी से भाजपा को हटाकर अखिलेश यादव के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत की सरकार बनानी है,तभी इस प्रदेश के नौजवान, किसानों, महिलाओं और सर्वसमाज के चेहरे पर मुस्कान की किरण दिखाई देगी।अपराध पर लगाम कसने में योगी सरकार फेल साबित हुई है। महंगाई से आम नागरिक कराह रहा है,बीजेपी ने सबको दुःख दिया है सबको परेशान करने का काम किया है।बीजेपी ने युवाओं को नौकरी नहीं दी। सम्मेलन में वक्ताओं में जिला उपाध्यक्ष रहमत अली, यदुनन्दन लाल वर्मा, डॉ0 अरुण मौर्या, विमलेश सिंह लोधी, निशान सिंह, धर्मवीर सिंह, प्रदीप राजवंशी, संजय कश्यप, दिनेश यादव, हरि जिन्दर सिंह ने समाजवादी पार्टी की नीतियों को जन जन तक पहुंचाने और पार्टी को बूथ स्तर तक मजबूती के साथ गठन करने का आह्वान किया। कार्यक्रम में आये अतिथियो द्वारा बूथ कार्यकर्ताओ के सम्मान में गुलाब के फूलों की पंखुड़ियों से पुष्प बर्षा करके उनका अभूतपूर्व स्वागत किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि एमएलसी राजपाल कश्यप को चांदी का पहनाकर, स्मृति चिन्ह और फूल मालाओं से उनका अभिनंदन किया गया। सम्मेलन में रामचन्द्र राठौर, चांद मिया, जितेंद्र यादव, दीपू सिंह, दुर्गा प्रसाद, राम सागर पाल, महेश पाल आदि मौजूद रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव