एक चूक हम सबको खलनायक बना देती है, कई बार पुलिस और फिर शासन को मुंह छिपाना पड़ता है:योगीआदित्यनाथ


लखनऊ।
पुलिस मुख्यालय में शनिवार को पुलिस अलंकरण समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक तरफ पुलिस विभाग में उत्कृष्ट सेवा करने वाले कर्मियों को सम्मानित किया। दूसरी तरफ, पुलिस अधिकारियों को नसीहत भी दी।

उन्होंने कहा कि जनता नायक को खलनायक बनाने में देर नहीं करती है। कुछ समय तक आप जनता या शीर्ष अधिकारियों की आंखों में धूल झोंक सकते हैं। जनता दर्शन से पता चलता है कि जिलों में क्या हो रहा है? पुलिस का जनता के प्रति पहला व्यवहार बहुत कुछ तय कर देता है। पीड़ित सबसे पहले पुलिस के पास ही जाता है। कई बार पुलिस और फिर शासन को मुंह छिपाना पड़ता है।

सीएम ने कहा कि साढ़े 4 साल में पुलिस ने बहुत अच्छा काम किया। मगर थोड़ी सी चूक हम सबको खलनायक बना देती है। सिर्फ बेहतर संवाद से ये चूक सुधारी जा सकती है। मौके पर सीनियर अधिकारी जाकर बेहतर संवाद कर सकते हैं। पुलिस के पक्ष को कम शब्दों में, तथ्यात्मक तरीके से पेश कर खलनायक बनने से बचा जा सकता है।

जनता का विश्वास पुलिस पर, हम पर बना रहना चाहिए
आगे सीएम योगी ने कहा कि मौके का मुआयना कर सही जानकारी दें तो मीडिया ट्रॉयल नहीं हो पाएगा। जानकारी के बावजूद कई बार मौन रह जाते हैं आप। सोशल मीडिया पर सही समय और तथ्य के साथ प्रतिक्रिया देनी चाहिए। हम यहां अपना बचाव करने नहीं, जनता की सुरक्षा के लिए आए हैं। जनता का विश्वास पुलिस पर, हम पर बना रहना चाहिए।

75 पुलिसकर्मियों को किया सम्मानित
इस समारोह में सीएम योगी आदित्यनाथ ने 75 पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया। पुलिस अफसरों को राष्ट्रपति का वीरता और पुलिस पदक से नवाजा। कोरोना की वजह से यह समारोह 2019 के बाद से आयोजित नहीं हो सका था। लंबे समय बाद आयोजित पुलिस अलंकरण समारोह में डीजी जेल आनंद कुमार, एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार, एसएसपी अभिषेक यादव को राष्ट्रपति के वीरता पदक से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का आयोजन पुलिस मुख्यालय सभागार में किया गया।

इन अफसरों ने राष्ट्रपति वीरता पदक

  • डीजी जेल आनंद कुमार को राष्ट्रपति का वीरता पदक
  • एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार को राष्ट्रपति का वीरता पदक
  • मुजफ्फरनगर के एसएसपी अभिषेक यादव को राष्ट्रपति वीरता पदक
  • एसपी प्रतापगढ़ सतपाल एंटिल को राष्ट्रपति का वीरता पदक

इन्हें मिला मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा पदक

  • डीजी जेल आनंद कुमार को सीएम का उत्कृष्ट सेवा मेडल
  • आईजी प्रयागराज कवींद्र प्रताप सिंह, सीएम का मेडल
  • एसटीएफ नोएडा के डीएसपी राजकुमार मिश्रा, सीएम मेडल
  • डीजी ट्रेनिंग आरपी सिंह, सीएम उत्कृष्ट सेवा मेडल
  • एडीजी लखनऊ जोन एसएन साबत, उत्कृष्ट सेवा मेडल
  • एडीजी वाराणसी बृज भूषण, सीएम उत्कृष्ट सेवा मेडल
  • आईजी लखनऊ रेंज लक्ष्मी सिंह, सीएम उत्कृष्ट सेवा मेडल

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव