सभी निजी व व्यवसायिक वाहनों में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट हुई जरूरी, परिवहन विभाग ने प्लेट परिवर्तन हेतु जारी की टाइम लाइन


लखीमपुर-खीरी,
परिवहन विभाग, उप्र द्वारा सभी निजी एवं व्यवसायिक वाहनों में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट(एचएसआरपी) अनिवार्य कर दी गयी है। पहले चरण में लगभग 50 हजार वाहन स्वामी इससे प्रभावित होगें। नम्बर प्लेट के अंत में एक या शून्य नम्बर वाले वाहनों का आगामी 16 नम्बर से चालान किया जायेगा। निर्माता कम्पनी से नई नम्बर प्लेट न लगवाने पर फिटनेस, परमिट, रि-रजिस्ट्रेशन समेत अन्य कार्यो पर भी रोक लगा दी गयी है। नये वाहनों के पंजीयन के साथ ही निर्माता कम्पनी की नम्बर प्लेट दी जा रही है इस पर बार कोड के साथ ही आईएनडी भी लिखा होता है। परिवहन विभाग ने वर्तमान में सभी निजी और व्यावसायिक वाहनों पर एचएसआरपी मय थर्ड रजि. मार्क के साथ जरूरी कर दी गयी है।


उन्होंने बताया कि शासन द्वारा परिवहन आयुक्त को पत्र भेजकर बिना एचएसआरपी वाले वाहनों से जुर्माना वसूलने का आदेश दिया है। इस व्यवस्था के तहत 16 नवम्बर,2021 से उन निजी वाहनों का चालान होगा जिनकी पंजीयन प्लेट पर अंतिम अंक शून्य या एक होगा। एआरटीओ (प्रशासन) आलोक कुमार सिंह ने स्पष्ट किया कि पुराने वाहनों में थर्ड पंजीकरण माक्र्स के साथ हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट अनिवार्य कर दी गयी है। जिन वाहनों में नई नम्बर प्लेट लगी होगी उन्हीं को कार्यालय की सारी सुविधाऐं प्राप्त होगी। अन्त में शून्य या एक नम्बर वाले वाहनों पर दिनांक 16 नवंबर 2021 से जुर्माना लगाने के आदेश जारी कर दिये गये।

किसके लिए कब तक दी गई छूट
प्लेट पर आखिरी अंक शून्य व एक होने पर 15 नवम्बर, दो व तीन पर 15 फरवरी, चार व पाॅच पर 15 मई, 06 व 07 पर 15 अगस्त, आठ व नौ अंक 15 नवम्बर।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक