थाना दिवस में सुनी गई फरियादियों की समस्यायें, किया गया निस्तारण


 मल्लावां/माधौगंज।
मल्लावां कोतवाली में थाना दिवस पर रोते बिलखते फरियादी पर अधिकारियों को आया तरस 5 दिन में समस्या को निस्तारित करने का आदेश दिया है। बताते चले मल्लावां कोतवाली में समाधान दिवस पर रोते बिलखते नारायमऊ गांव के राम सागर ने रोते हुए बताया कि उसके घर की नली को सीमेंट से गांव के मानसिंह, मुनेश रज्जन ने बंद कर दिया है जिसके चलते उसके घर में पानी भरने से परेशान बना हुआ। उसके द्वारा इस समस्या को लेकर मुख्यमंत्री से लगाकर जिला अधिकारी तहसील दिवस थाना दिवस कई बार प्रार्थना पत्र दे चुका है। लेकिन उसकी सुनवाई न हुई अपनी समस्या बताते हुए राम सागर की आंखों से आंसू आ गए। उसके आंसुओं को देखकर तहसीलदार राजीव यादव, कोतवाल सुनील कुमार ने मानवता दिखाते हुए लेखपाल को बुलवाकर तत्काल उसकी समस्या का समाधान के लिए लेखपाल को आदेश दिया और 5 दिन में समस्या के निस्तारित कराने की बात कही। वही पीड़ित भाजपा का बूथ अध्यक्ष है उसके बावजूद भी 10 से 15 बार प्रार्थना पत्र देने के बावजूद भी कोई सुनवाई आज तक न हुई थी। वहीं गंजजलालाबाद निवासी मुसीर ने बताया कि उसके दरवाजे के सामने मो० शेर ने घूरा, कूड़ा आदि डाल रखा है कई बार कई बार प्रार्थना पत्र दे चुका हूं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। ऐसे में कहीं न कहीं सरकार द्वारा समाधान दिवस के माध्यम से लोगों का विश्वास डगमगा रहा है। थाना दिवस पर राजस्व सम्बन्धी 31 प्रार्थना पत्र जिसमें 5 मामलों का निस्तारण भी किया गया। माधौगंज संवाददाता के अनुसार समाधान दिवस में 8 शिकायते आई जिनमे पुलिस से संबंधित 2 शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया। बची 6 शिकायतों को संबंधित लेखपाल को जांच को सौंपी गई। शनिवार को थाने पर आयोजित समाधान दिवस पर प्रभारी निरीक्षक संदीप सिंह की अध्यक्षता में आयोजन किया गया। जिसमें राजस्व से संबंधित 6 शिकायते आई। वही पुलिस से संबंधित 2 शिकायते आई। जिसमे भाई भाई के बीच मे झगड़े को पुलिस ने मोके पर निस्तारित किया वही नाली विवाद को भी निस्तारित कर दिया। समाधान दिवस में कुरसठ ई ओ देवांशी दीक्षित सहित हल्का दरोगा व लेखपाल विजय मिश्रा आदि कर्मचारी मौजूद रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव