पुलिस की सह पर सारदा नहर से जमकर हो रहा बालू खनन


 जानकर भी अंजान बने जिम्मेदार, खनन माफियाओं के हौसले बुलंद  

हरदोई। मल्लावां कोतवाली क्षेत्र के सारदा नहर से रात्रि के अंधेरे में अवैध बालू खनन पुलिस की मिली जुगत से खनन माफिया करने में जुटे हुए हैं जिसके चलते खनन विभाग को लाखों का चूना लगाया जा रहा और खनन विभाग अंजान बना हुआ है। इसके अलावा नहर विभाग भी रोज चोरी हो रही बालू से अंजान है। बताते चले सारदा नहर से रात्रि के अंधेरे में चुंगी नंबर 2 से होते हुए नहर पुल से कुछ दूरी पर टैक्टर ट्रालियों के माध्यम पूरी रात अवैध खनन लेबरों की मदद से चलाया जाता है। ऐसी चर्चा बनी हुई है। लेकिन रात में पहरा देने वाली पुलिस खनन माफियाओं को संरक्षण दिए हुए जिसके चलते किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही देखने को नही मिल रही है। टैक्टर ट्रालियों के माध्यम से जमकर मिट्टी के खनन का भी खेल जारी है। लेबरों के माध्यम से राघौपुर रोड से दिन भर टैक्टर ट्रालियों को मिट्टी धोते देखा जा सकता है। वहीं दूसरी ओर नहर से लंबे समय से खनन किया जा रहा है। लेकिन नहर विभाग और खनन विभाग दोनों अंजान बने हुए हैं। वहीं बालू लायल्टी की रशीद पर 4 हजार तक बेचे जाती है। बिना लायल्टी के नहर की बालू 25 सौ रुपये तक ट्राली की बिक्री खुलेआम की जा रही। सूत्रो की माने तो साहब को मोटा नजराना देने के बाद इन खनन माफियाओं को भारी छूट दे दी जाती है। ऐसे में सरकार जहां खनन को लेकर सख्त है लेकिन मल्लावां में खनन माफियाओं के हौसले बुलंद बने हुए हैं। आखिर पुलिस इन खनन माफियाओं पर क्यो मेहरबान है इसको लेकर चर्चा बनी हुई है। इस सम्बंध में जब एसपी पूर्वी अनिल कुमार से बात करनी चाही गई तो उनका फोन नही लगा। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव