नही दुरूस्त हो रही टड़ियावां सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की अव्यवस्थाएं

 


अस्पताल के अन्दर व बाहर लगा रहता गन्दगी का अम्बार, जिम्मेदार बेखबर 

टड़ियावां हरदोई,। यहां क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अव्यवस्थाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अस्पताल परिसर के बाहर जहां गंदगी का आलम है तो वहीं अंदर की दीवारें, बीम कॉलम गंदगी से पटे पड़े हैं। यहाँ के जिम्मेदार सरकार के स्वच्छता अभियान को ठेंगा दिखाने का कार्य कर रहे हैं। यहां के अस्पताल में वर्तमान में इतनी ज्यादा गंदगी देखने को मिलती है जिसे देखकर यह लगता है कि अस्पताल स्वयं बीमार है। यहां इलाज कराने आये मरीज व उनके परिजनों ने बताया कि अस्पताल के कई स्थानों पर जगह-जगह पान-गुटखा की पीक, गंदगी के ढेर अस्पताल प्रशासन के द्वारा चलाये जा रहे स्वच्छता अभियान की हकीकत बयां कर रहे हैं। अस्पताल में भर्ती महिला मरीजों के लिए यहां अस्पताल की गंदगी बीमारी की वजह बन सकती है। यहां धूम्रपान करने वालों पर जुर्माने का प्रावधान तो है लेकिन ढुलमुल रवैये के चलते इसका असर यहां नजर नहीं आता है और न ही जुर्माना वसूला जा रहा है जिसके परिणाम स्वरूप अस्पताल में गंदगी लगातार पांव पसार रही है। अस्पताल के अंदर परिसर की दीवारों पर पान मसाला खाकर थूका गया है,अंदर की आकस्मिक ओपीडी कक्ष के सामने अक्सर गंदगी बनी रहती है।यहां पीने के पानी के लिए वाटर कूलर जहां रखा गया है।उसके आसपास भी भोजन के जूठन,खराब पॉलीथिन, बेकार साग-सब्जी आदि बिखरी पड़ी रहती है,जिससे यहां से उठने वाली दुर्गंध से मरीजों के परिजनों व स्वास्थ्य कर्मी का भी यहां से गुजरना दूभर होता है। इसी प्रकार अस्पताल के वार्डों के शौचालयों की दुर्दशा भी किसी से छिपी नही हैं।यहां गंदा पानी भी भरा रहता है। दुर्गंध की वजह से लोग आसपास भी जाना पसंद नहीं करते हैं,जरूरी होने पर मरीज व उनके परिजन मुंह नाक कपड़े से ढांक कर जाते हैं। इसी प्रकार अस्पताल के महिला वार्ड के बरामदे के बीम कॉलम में गंदे कपड़े व पान-गुटका की पीक गंदगी बनी हुई है। बाहर की ओर निकली रोड से बरामदे से गुजरने वाले मरीज व उनके परिजनों समेत स्वास्थ्य कर्मी को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उपरोक्त मामले में जब सीएचसी अधीक्षक से बात हुई तो उन्होंने बताया कि सफाई कर्मी के द्वारा अस्पताल परिसर में साफ सफाई हुआ करती हैं, अगर वर्तमान में अस्पताल परिसर गंदगी का आलम हैं, तो सम्बंधित कर्मचारी पर कार्यवाही की जाएगी।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक