अवैध शराब और अवैध कब्जों से फल फूल रही कांशीराम कालोनी


 कालोनी में चरम सीमा पर होता है कच्ची शराब का कारोबार 

शाहाबाद हरदोई। काशीराम कालोनी में कच्ची शराब के कारोबारियों और कालोनियों पर अवैध कब्जेधारियों के चलते यहां अनैतिक कार्यों को बखूबी अंजाम दिया जाता है जिसकी मिशाल आये दिन काशीराम कॉलोनी में झगड़ा मारपीट तथा अनैतिक कार्यों से देखी जा सकती है। लगभग एक वर्ष पूर्व नर्मदा तीर्थ के काली मां मंदिर के एक साधु की कच्ची शराब पीने से संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी थी। बताया जा रहा है कि यहां रोजाना बड़ी संख्या शराब के शौकीन आते हैं और जाति विशेष के यहां कच्ची शराब पीते हैं। बताया तो यहां तक जाता है कि काशीराम कॉलोनी में कच्ची शराब प्रचुर मात्रा में निकाली जाती है।लोंगो का मानना है कि काशीराम कॉलोनी के अवैध शराब और अवैध कब्जेदार ही घटनाओं का सबब बने हुए हैं।यहां पर रोजाना होने वाली घटनाएं बगल में कोतवाली पुलिस और सीओ कार्यालय को भी शर्मसार करती हैं। अभी 4 दिन दिन पूर्व यहां हुई लोमहर्षक घटना ने प्रशासन को भी झकझोर दिया।उक्त घटना के बाद एएसपी ने मौके पर आकर पुलिस को शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिये थे। चूंकि मामला 2 समुदायों के बीच था इसलिये पुलिस के आलाधिकारी अपनी पैनी नजर रखे हुये हैं। एएसपी दुर्गेश कुमार सिंह मंगलवार की शाम दूसरी बार कांशीराम कालोनी आये और स्थानीय प्रशासन के साथ बैठक कर शांति व्यवस्था हेतु आवश्यक निर्देश दिये।एएसपी दुर्गेश कुमार, एसडीएम सौरभ दुबे,सीओ सतेंद्र सिंह और कोतवाल सुरेश कुमार मिश्र ने कांशीराम कालोनी के सरकारी स्कूल में बैठक कर दोनों पक्षों से शांति बनाए रखने की अपील की तथा सम्मानित लोगों से प्रशासन का सहयोग करने को कहा।

120 कालोनियों पर है अवैध कब्जा 

पूर्व बसपा सरकार में तहसील से सटी जगह पर काशीराम कॉलोनी का निर्माण कराया गया था। जिसमे गरीबों के लिये 600 आवास बनाए गए थे। आवास आवंटन के समय लगभग 120 आवास का आवंटन नहीं हो पाया था। इसमें 92 अनुसूचित जाति जनजाति लोगों को दिए जाने थे परंतु लाभार्थी न मिलने के कारण उनका आवंटन नहीं हो सका इसलिए वह अरसे से खाली पड़े थे। इन आवासों पर मठाधीश  और माफियाओं की गिद्ध दृष्टि पड़ी और ऐन केन प्रकारेण उन आवासों पर अवैध कब्जा कर लिया।इन लोगों ने गाहे-बगाहे यहां आकर इन आवासों को अपनी मौज मस्ती का ठिकाना बना लिया।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक