सी.एम.एस. ने पूरे प्रदेश में शिक्षा का एक अनूठा वातावरण सृजित किया है : सुरेश कुमार खन्ना

 


लखनऊ
, 4 सितम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल द्वारा आज शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर बड़े उत्साह व भव्यता के साथ आॅनलाइन ‘शिक्षक दिवस समारोह’ मनाया गया। समारोह में मुख्य अतिथि श्री सुरेश कुमार खन्ना, वित्तमंत्री, उ.प्र., ने अपनी आॅनलाइन उपस्थिति से समारोह की गरिमा को बढ़ाया। समारोह में सी.एम.एस. के सभी 18 कैम्पस की प्रधानाचार्याओं सहित सी.एम.एस. लगभग 3000 शिक्षकों व कार्यकर्ताओं ने आॅनलाइन जुड़कर समारोह की भव्यता में चार-चांद लगा दिये तथापि सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी व डा. (श्रीमती) भारती गाँधी एवं सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने विद्यालय के सभी शिक्षकों के प्रति हार्दिक आभार व धन्यवाद ज्ञापित किया। इससे पहले, सी.एम.एस. के क्वालिटी अश्योरेन्स एवं इनोवेशन डिपार्टमेन्ट की हेड एवं सुपीरियर प्रिन्सिपल सुश्री सुस्मिता बासु ने मुख्य अतिथि समेत अन्य गणमान्य अतिथियों एवं शिक्षकों का हार्दिक स्वागत-अभिनन्दन किया एवं अपने उद्बोधन में सी.एम.एस. की उल्लेखनीय प्रगति पर अपने विचार रखे।

इस अवसर पर अपने संबोधन में मुख्य अतिथि श्री सुरेश कुमार खन्ना, वित्तमंत्री, उ.प्र., ने कहा कि सी.एम.एस. ने पूरे प्रदेश में शिक्षा का एक अनूठा वातावरण सृजित किया है और लखनऊ का नाम सिर्फ देश में ही अपितु अन्तर्राष्ट्रीय पटल पर गौरवान्वित किया है। डा. जगदीश गाँधी व डा. भारती गाँधी अथक परिश्रम व पूरे समर्पण भाव से भावी पीढ़ी की जो सेवा कर रहे हैं, उसकी दूसरी मिसाल मिलनी मुश्किल है। पहले लोग शिक्षा के लिए इलाहाबाद, दार्जलिंग व दिल्ली आदि शहरों का नाम लेते थे, परन्तु अब सी.एम.एस. की वजह से शिक्षा के क्षेत्र में लखनऊ का नाम सबसे पहले आता है। बच्चों के जीवन को सजाने, संवारने व उनके व्यक्तित्व विकास का जो काम सी.एम.एस. कर रहा है, उसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए, कम होगी। उन्होंने सी.एम.एस. शिक्षकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि आप सभी शिक्षकों के कारण ही सी.एम.एस. का नाम आज गौरव के साथ लिया जाता है। आपके द्वारा पढ़ाये गये छात्र आज समाज के सभी क्षेत्रों में उल्लेखनीय प्रगति कर रह हैं। देश की उन्नति में बहुत बड़ा योगदान शिक्षकों का है।

इससे पहले, शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों के प्रस्तुतिकरण से ‘शिक्षक दिवस समारोह’ का शुभारम्भ हुआ। स्कूल प्रार्थना, सर्व-धर्म प्रार्थना, विश्व शान्ति प्रार्थना, वंदे मातरम, स्वागत गान, वल्र्ड पार्लियामेन्ट, कव्वाली एवं डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के विचारों पर आधारित विभिन्न शानदार प्रस्तुतियों ने सभी को भावविभोर कर दिया। इस अवसर पर सी.एम.एस. विजन-2025 पर प्रस्तुतिकरण बेहद प्रभावशाली रहा। 

इस अवसर पर शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि सी.एम.एस. शिक्षकों का हार्दिक आभार व्यक्त करते हुए कहा कि हमारे शिक्षकों ने अनेको ऐसे कीर्तिमान स्थापित किए हैं जो लगभग असंभव लगते थे। आपने 5 बच्चों से शुरू करके इस विद्यालय को गिनीज बुक आॅफ रिकार्ड में स्थान दिलाया है। सी.एम.एस. संस्थापिका-निदेशिका एवं प्रख्यात शिक्षाविद् डा. (श्रीमती) भारती गाँधी ने कहा कि डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के विचार सभी देशों व सारी मानवता के लिए प्रासंगिक है और सी.एम.एस. के शिक्षक भी उन्हीं के बताये रास्ते पर चल रहे हैं। उन्होंने सभी शिक्षकों को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी। सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट एवं एम.डी., प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने मुख्य अतिथि, सी.एम.एस. शिक्षकों व प्रधानाचार्याओं को हार्दिक धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि पिछले 62 वर्षों से सी.एम.एस. जिन नैतिक मूल्यों व विचारों के साथ लगातार आगे बढ़ रहा है, उन्हीं आदर्शों के साथ हम सदैव समर्पण भाव से भावी पीढ़ी के भविष्य निर्माण में तत्पर रहेंगे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव