सहारा द्वारा जमाकर्ताओं का भुगतान करवाये जाने को सौंपा ज्ञापन


 
लखीमपुर , खीरी
कस्बे में स्थित सहारा बैंक में क्षेत्र के हजारों जमाकर्ताओं के द्वारा विभिन्न स्कीमों के अंतर्गत पैसा जमा किया गया हैं लेकिन 4 वर्ष व उससे अधिक होने के बाद भी बैंक द्वारा निवेशकर्ताओं का भुगतान नही किया गया, इससे परेशान होकर जमाकर्ताओं व एजेंटों ने प्रभारी निरीक्षक तिकुनिया को ज्ञापन सौंपा है।

            सहारा इंडिया शाखा 1992 से तिकुनिया में संचालित है । क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं के माध्यम से क्षेत्र के हजारों जमाकर्ताओं के द्वारा विभिन्न प्रकार की स्किम के अंतर्गत लगभग पचास करोड़ से अधिक धनराशि शाखा तिकुनिया में जमा की है । जिनमें से अनेक ऐसे जमाकर्ता हैं जिनकी  स्कीम के करीब 4 वर्ष व उससे अधिक की अवधि बीत चुकी है लेकिन, शाखा द्वारा भुगतान न देकर तमाम प्रकार के बहाने बताये जा रहे हैं जिससे पैसा जमा करने वाली जनता अत्यंत परेशान है । अब सहारा कम्पनी द्वारा शाखा कार्यालय तिकुनियां को जमाकर्ताओं का भुगतान किये बिना ही शाखा को बंद करने के लिये मौखिक रूप से बताया जा रहा है । इस जानकारी के बाद  जमाकर्ता व कार्यकर्ता अपने को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। कार्यकर्ताओं ने इस संबंध में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक तिकुनियां को एक ज्ञापन सौंप कर मांग की है कि शाखा द्वारा जमाकर्ताओं का शीघ्र भुगतान करवाया जाए और बिना भुगतान के तिकुनियां की शाखा को बंद न किया जाए। तत्कालीन कोतवाल हरिओम श्रीवास्तव ने मामले की जांच उपनिरीक्षक अंसार हुसैन रिज़वी को सौंप दी थी। इस अवसर पर एजाज अहमद, जसवंत कुमार वर्मा, रमेश चंद्र बाजपेयी, अमित अग्रवाल उमेश कुमार वर्मा,सहित कई निवेशकर्ता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।


---
मैं 30 अप्रेल को रिटायर हो चुका हूं और मेरा भी पेमेंट फंसा हुआ है । पूरे हिन्दुस्तान में सहारा इण्डिया किसी का भी पेमेंट नहीं कर रही है । हर जगह एफआईआर करवा रहे हैं लोग , धरना दे रहे हैं और ज्ञापन दे रहे हैं। रही शाखा स्थानांतरण की बात तो वह निघासन सिफ्ट हो रही है ।


इरशाद अली ।
पूर्व मैनेजर 
तिकुनिया ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव