क्रिकेटर शिखर धवन ने पत्नी आयशा से लिया तलाक


क्रिकेटर शिखर धवन की पत्नी आयशा ने बुधवार को सोशल मीडिया पर पोस्ट कर उनसे तलाक लेने का खुलासा किया। शिखर ने 9 साल पहले 2012 में आयशा मुखर्जी से परिवार की मर्जी के खिलाफ शादी की थी। इस शादी में विराट कोहली सहित कई क्रिकेटर शामिल हुए थे।

तलाक की खबर आने के बाद उनके करीबी हैरान हैं। शिखर ने अब तक तलाक को लेकर कुछ भी नहीं कहा है, लेकिन उन्होंने सोशल मीडिया से आयशा से जुड़े कई वीडियो हटा दिए हैं। वहीं, आयशा ने सोशल मीडिया पर इमोशनल पोस्ट कर दूसरी शादी टूटने की जानकारी दी है।

जनवरी के बाद आई खटास
शिखर के एक करीबी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि शिखर और आयशा के बीच पिछले साल दिसंबर तक सब कुछ ठीक था। लॉकडाउन के शुरुआत में शिखर ने पत्नी आयशा के साथ फोटो और वीडियो शेयर लोगों को घर में रहने की सलाह दी थी।

वहीं, उन्होंने लॉकडाउन के दौरान टॉयलेट साफ करते हुए एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर डाला था। इसमें उनके पास आयशा भी थीं।

रिश्ता क्यों टूटा कोई नहीं जानता
शिखर के करीबी कहते हैं कि पिछले सात-आठ महीनों के बीच में ही इनके रिश्ते में खटास आई है। ये किसी को नहीं पता कि इसकी वजह क्या है। रिश्ते बिगड़ने के बाद भी शिखर नहीं चाहते थे, कि उनकी शादी टूटे। लेकिन, आयशा की ओर तलाक की पहल की गई। इसके बाद शिखर राजी हो गए।

शिखर तलाक के बाद भी कोशिश कर रहे हैं कि सब कुछ ठीक-ठाक हो जाए, इसलिए अब तक उन्होंने इस पर कोई पोस्ट या बयान नहीं दिया है। आयशा ने मंगलवार को तलाक की बात सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी। इसके बाद शिखर ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से आयशा से जुड़े कई वीडियो और फोटो हटा दिए हैं।

सोशल मीडिया से हुई थी दोनों की पहचान
शिखर और आयशा की लव स्टोरी की बात करें तो ये सोशल मीडिया से शुरू हुई। सोशल मीडिया पर आयशा का फोटो देखकर शिखर पहली नजर में ही उन पर फिदा हो गए थे। आयशा तलाकशुदा थीं और उनकी दो लड़कियां थी। इसके बाद भी उन्होंने आयशा से शादी की।

शिखर के पिता इस रिलेशन के खिलाफ थे। उनके पिता नहीं चाहते थे, कि वे दो बेटी वाली महिला से शादी न करें। पर वह आयशा से इतना ज्यादा प्यार करते थे, कि वह पिता के बात को भी मानने से इनकार कर दिया था। बाद में परिवार वाले सहमत हो गए थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव