बारिश के चलते मकान ढहने से मलबे में दबकर किसान की मौत

 


हरपालपुर।
कटियारी क्षेत्र में पिछले दो-तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश से मिट्टी का कच्चा मकान भर भराकर गिर गया। मलबे में दबने से मकान के भीतर लेते किसान की मौत हो गई। घटना कटियारी क्षेत्र के पिथनापुर नगरिया की है। हरपालपुर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम पंचायत पिथनापुर नगरिया निवासी रामनरेश (60) पुत्र छेदा मिट्टी के कच्चे मकान में अपने बच्चो के साथ रहकर जीवन यापन कर रहा था।रविवार को सुबह में आठ के करीब अचानक मकान ढह गया। मकान के भीतर रामरतन लेटा हुआ था वहीं उसके तीन लड़के व चार लड़कियां है। दरअसल पिछले दो-तीन दिनों से लगातार हो रही बारिश के चलते मिट्टी का मकान भीग गया था।सुबह में पूरा मकान भरभराकर गिर गया। मलबे में दबने से रामनरेश दब गया। आसपास के लोगों की मदद से मलबे में दबे रामनरेश को मलबे से निकाला गया। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी।रामनरेश की सांसे थम चुकी थी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पंचनामा कर पीएम के लिए भेज दिया। ग्रामीणों अनुसार रामनरेश मिट्टी के कच्चे मकान में अपने परिवार के साथ रहकर जीवन यापन कर रहा था। बच्चे अपने पिता के साथ ही रह रहे थे।रविवार को अचानक उसका मकान ढह गया। मकान के भीतर रामनरेश लेटा हुआ था वहीं उसके तीन लड़के व चार लड़कियां है हादसे में रामनरेश की मौत होने से बच्चों के सिर से पिता का साया उठ गया। वही अगर सरकार हर व्यक्ति को आवास योजना चला रही है तो कच्चा मकान होन के  कारण उसको भी आवास की सुविधा मिलनी चाहिए लेकिन उसे आवास नहीं मिलना यह व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह खड़ा कर रहा है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव