आचार्य विनोबा भावे का धूम धाम से मनाया गया जन्म दिन

 


मिश्रित सीतापुर ।
भारत के प्रथम राष्ट्रपति महामहिम डा. राजेन्द्र प्रसाद व्दारा रजिस्टर्ड चम्बल घाटी बिनोवा भावे मिशन जिला कार्यालय में आज संगठन के मंडल अध्यक्ष रामकृपाल राठौर की उपस्थित में जिलाध्यक्ष ओमकार यादव व्दारा आचार्य विनोबा भावे का जन्म दिन बड़ी ही धूम धाम से मनाया गया । इस मौके पर जिलाध्यक्ष ने कहा कि आचार्य विनोबा भावे ने इस संगठन के माध्यम से चम्बल के सैकड़ो बागियों को सरकार के समक्ष आत्म समर्पण कराकर सामाजिक  इंसान बनाया । इतना ही नही वह भू दान आंदोलन के सूत्रधार थे । वर्ष 1983 में उन्हे भारत रत्न से सम्मानित किया गया था । 11 सितंबर 1895 में महाराष्ट्र के कोलाबा जिले में उनका जन्म हुआ था। बचपन में उनका नाम विनायक नरहरि भावे था । जो आगे चलकर विनोबा भावे हो गया। सत्य ,अहिंसा व मानवाधिकारों की वकालत करने वाले विनोबा भावे जी को ‘आचार्य  की उपाधि मिली थी । वह जमीन के मालिकों से दान के तौर पर भूमि लेकर गरीब लोगों को खेती के लिए देते थे । 15 नवंबर 1982 को उनका देहान्त हो गया । मरणोपरांत उन्हें भारत रत्न की उपाधि से सम्मानित भी किया गया ।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव