मांगे न पूरी होने तक जारी रहेगा आमरण अनशन, तीसरे दिन भी अनशन जारी


 शाहाबाद।
विश्व मानव संगठन अध्यात्मिक के कार्यकर्ताओं की मांगे न पूरी होने तक उनका आमरण अनशन निरन्तर चला रहेगा। गुरूवार को भूख हड़ताल के तीसरे दिन भी कोई भी प्रशासनिक अधिकारी नहीं आया। कार्यकर्ताओं का कहना है कि रामवीर सिंह तहसीलदार शाहाबाद प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट अपनी कमियों को छुपाने के लिए किसी भी अधिकारी को अनशन स्थल तक आने नहीं दे रहे हैं। लेकिन हम यही चाहते हैं की भूख हड़ताल शांतिपूर्वक रहे। कार्यकर्ताओं ने अपनी सात सूत्रीय मांगो में कहा कि शाहाबाद में मुंसिफ न्यायालय मैं मुंसिफ मजिस्ट्रेट की नियुक्ति की जाए। तहसील शाहाबाद में डामर रोड बनाया जाए और साफ सफाई कराई जाए। शाहाबाद में 18 घंटा बिजली भी दी जाए, खता जमाल खान सहित संपूर्ण शाहबाद में साफ सफाई कराई जाए। शाहाबाद तहसील मैं नायब तहसीलदार की नियुक्ति की जाए, तहसीलदार रामवीर सिंह रिश्वतखोर है और भ्रष्ट है इसकी जांच करा कर इसे सस्पेंड किया जाए। उदय प्रताप सिंह निवासी ग्राम मसफना थाना हरियावां  ने मृतक लालता सिंह की भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया है यह कब्जा रामवीर सिंह ने रिश्वत लेकर करवाया है और उदय प्रताप सिंह के नाम थाना हरियावां में भू-माफिया के अंतर्गत एफआईआर दर्ज की जाए। कार्यकर्ताओं का कहना है कि  सभी मांगे जब तक पूरी नहीं होगी तब तक अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल जारी रहेगी। भूख हड़ताल में मृत्यु हो जाने पर पूरी जिम्मेदारी रामवीर सिंह तहसीलदार शाहबाद की होगी। अनशन के दौरान संत कुमार सिंह गौर एडवोकेट, प्रभु महाराज राष्ट्रीय अध्यक्ष विश्व मानव संगठन अध्यात्मिक शाहाबाद, नगर के नगर अध्यक्ष विजय सिंह राठौर, विश्व मानव संगठन अध्यात्मिक के सक्रिय कार्यकर्ता हरिपाल शकूर मुन्ना, गिहार, शब्बू खान, लाला खान, सुनील सैनी, मुस्तकीम मनिहार, संदीप सिंह गौर उर्फ हरिवंश सिंह, श्याम मोहन त्रिवेदी, रामनिवास, अरमान खान, सचिन  गिहार, प्रमोद त्रिवेदी आदि विश्व मानव संगठन के कार्यकर्ता मौजूद रहे। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव