पत्रकारों पर उत्पीड़न व दुव्र्यवहार बर्दाश्त नहीं-जिलाध्यक्ष

 


पत्रकार एकता संघ ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा

हरदोई। जनपद में आए दिन पत्रकारों का उत्पीड़न किया जा रहा है। खबर कबरेज व प्रकाशित होने पर पत्रकारों को अपमानित किया जाता है,पत्रकारों को फोन कर धमकाया जाता है,जान से मारने की धमकी दी जाती है। लेकिन शासन प्रशासन कार्यवाही करने के बजाए पत्रकारों का ही उत्पीड़न करने में जुटा हुआ है। आपको बता दें कि बिलग्राम थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम बुधनपुर के प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक और अध्यापक के आने का समय रोजाना 9ः30 पर आना होता है। जिस संबंध में पत्रकारों द्वारा खबर प्रकाशित की गई खबर प्रकाशित करने के बाद पत्रकार भानु प्रताप सिंह को बीएसए ऑफिस के अधिकारी का नाम बता कर फोन किये जाते हैं,और धमकी दी जाती है,कि अगर दोबारा खबर प्रकाशित की तो जान से मार दूंगा। दूसरी तरफ क्षेत्रीय विधायक के द्वारा अवैध मिट्टी व बालू खनन धड़ल्ले से कराया जा रहा था उसकी खबर पत्रकार द्वारा प्रकाशित की गई उसके बाद फोन आया की प्रकाशित बंद करो अन्यथा इसका अंजाम बहुत बुरा होगा इसको विधायक ही देखेंगे यह बात फोन करने वाले ने कही। वहीं थाना बिलग्राम के एस आई रजित राम मिश्रा की चेकिंग के दौरान वसूली की खबर प्रकाशित की गई थी। जिससे उक्त सभी नाराज रहने लगे।उसी खुन्नस को लेकर कल 3 सितंबर 2021 को एस आई रजित राम मिश्रा व कांस्टेबल राहुल कुमार पत्रकार के दरवाजे पहुंचते हैं उन्हें लेकर कोतवाली चलने को बोलते हैं। पत्रकार राहुल प्रदेश उपाध्यक्ष बृजेश ठाकुर पत्रकार एकता संघ व जिला अध्यक्ष खालिद खान को सूचित करता है। सूचित करने के बाद कोतवाली बिलग्राम फोन किया जाता है।कोतवाली से जानकारी मिलती है कि कोतवाल साहब छुट्टी पर हैं मैं क्राइम स्पेक्टर कार्यभार देख रहा हूं। जो कि पत्रकार को बुलाया नहीं है।फिर भी एसआई द्वारा थाने ले जाया जाता है क्राइम इस्पेक्टर के द्वारा अभद्रता पूर्वक व्यवहार किया जाता है। उसके बाद पुनः फोन कोतवाली किया जाता है। तो पत्रकार को घर भेज दिया जाता है और धमकी दी जाती है। पुलिस के द्वारा भविष्य में इन लोगों के खिलाफ खबर प्रकाशित मत करना उक्त सभी दबंग किस्म के व्यक्ति हैं।इसका अंजाम बहुत बुरा होगा।वही दूसरी तरफ थाना टड़ियावां में पत्रकार अजीम मंसूरी तथा मो0इस्लाम हाशमी पर 13 अगस्त किया गया जान लेवा हमला हमलावरों के खिलाफ पूर्व में दिया गया ज्ञापन व तहरीर लेकिन अभी तक आरोपियों पर रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है। इसी को लेकर पत्रकार एकता संघ ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट के द्वारा खालिद खान जिला अध्यक्ष की अगुवाई में भेजा गया है,और एक तहरीर पुलिस अधीक्षक को दी गई हैं। पत्रकार एकता संघ ने मांग की है, कि उक्त प्रकरणों की सरलता पूर्वक जांच कर सभी आरोपियों के खिलाफ तत्काल कार्यवाही की जाए ऐसा ना होने पर पत्रकार एकता संघ वह जिले के पत्रकार साथी अनिश्चितकालीन के लिए पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने धरना देने के लिए बाध्य होंगे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव