सी.एम.एस. गोमती नगर के 11 छात्र 55,000 रूपये के नगद पुरस्कार से नवाजे गये


 लखनऊ,
9 सितम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) के 11 मेधावी छात्रों को लखनऊ का नाम अन्तर्राष्ट्रीय पटल पर गौरवान्वित करने हेतु सी.एम.एस. द्वारा पाँच-पाँच हजार रूपये के नगद पुरस्कार से पुरष्कृत कर सम्मानित किया गया है। इस प्रकार, सभी 11 छात्रों को विद्यालय द्वारा 55,000 रूपये का नगद पुरस्कार प्रदान किया गया है। सी.एम.एस. के इन मेधावी छात्रों ने आस्ट्रेलियन काउन्सिल फाॅर एजुकेशनल रिसर्च (ए.सी.ई.आर.) के तत्वावधान में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित इण्टरनेशनल बेन्चमार्क टेस्ट (आई.बी.टी.) में विभिन्न विषयों में 100 परसेन्टाइल के साथ विश्व में प्रथम रैंक अर्जित कर देश का मान बढ़ाया है। उक्त जानकारी सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने दी है। श्री शर्मा ने इस विश्व प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) के छात्र रानेश मौर्या, आदित्य श्रीवास्तव, सत्यार्थ पाण्डेय, अन्वेषा सिंह, गरिमा राठी एवं अप्रतिम तिवारी ने विज्ञान विषय में 100 परसेन्टाइल अर्जित किया है तो वहीं दूसरी ओर प्रहर्ष चतुर्वेदी, सक्षम पाण्डेय, सुमी पाण्डेय, आदित्य वर्मा एवं शुब्रांशु पाण्डेय ने गणित विषय में 100 परसेन्टाइल अर्जित कर अपने ज्ञान का परचम लहराया है। सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा जगदीश गाँधी ने पुरष्कृत होने वाले सभी छात्रों को बधाई देते हुए उनके अत्यन्त उज्जवल भविष्य की कामना की।

श्री शर्मा ने बताया कि आस्ट्रेलियन काउन्सिल फाॅर एजुकेशनल रिसर्च (ए.सी.ई.आर.) संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था यूनेस्को का आॅफिसियल पार्टनर भी है, जो कि अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर छात्रों की प्रतिभा का आकलन करता है। आई.बी.टी. टेस्ट किसी भी देश के पाठ्यक्रम के बजाय मूलतः छात्रों की प्रतिभा व कौशल पर आधारित होते हैं। श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. का लगातार यही प्रयास है कि विभिन्न रचनात्मक प्रतियोगिताओं के माध्यम से छात्रों की बहुमुखी प्रतिभा को निखारा एवं प्रोत्साहित किया जाए। यही कारण है कि सी.एम.एस. छात्र समय-समय पर विभिन्न राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में कीर्तिमान स्थापित कर देश का नाम रोशन कर रहे हैं।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव