ओडिसी इण्टरनेशनल की वाद-विवाद प्रतियोगिता में अपने ज्ञान-विज्ञान व अभिव्यक्ति क्षमता की छाप छोड़ी देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने

 


लखनऊ,
12 अगस्त। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, राजाजीपुरम (प्रथम कैम्पस) द्वारा आॅनलाइन आयोजित चार दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय अंग्रेजी साहित्य ओलम्पियाड ‘ओडिशी इण्टरनेशनल-2021’ के दूसरे दिन आज दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, माॅरीशस, नेपाल, कुवैत, जर्मनी, इण्डोनेशिया एवं भारत के विभिन्न प्रान्तों की छात्र टीमों ने विभिन्न रोचक व 

ज्ञानवर्धक प्रतियोगिताओं में न सिर्फ अपने ज्ञान-विज्ञान का लोहा मनवाया अपितु एक-दूसरे के साथ अपने विचारों को भी साझा करते हुए विभिन्न देशों की संस्कृति व सभ्यता से भी रूबरू हुए। ओलम्पियाड में आज देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने वाद-विवाद प्रतियोगिता के सजीव प्रसारण के दौरान अपने ज्ञान-विज्ञान, रचनात्मक सोच, तार्किक क्षमता व अभिव्यक्ति क्षमता का अभूतपूर्व प्रदर्शन कर सभी को आश्चर्यचकित कर दिया।

ओडिसी इण्टरनेशनल के अन्तर्गत सीनियर वर्ग की वाद-विवाद प्रतियोगिता ‘मार्डन लिटरेटचर रिमार्कबली रिवब्र्रेट्स द विक्टोरियन इरा’ विषय पर आयोजित की गई। इस प्रतियोगिता में देश-विदेश की 25 छात्र टीमों ने अपने ज्ञान व रचनात्मक सोच का आलोक बिखेरा और अपने सारगर्भित विचारों से सभी को आश्चर्यचकित कर दिया। प्रतिभागी छात्र टीमों ने 3 मिनट के समय में विषय के पक्ष अथवा विपक्ष में अपने विचार रखे। विषय के पक्ष में बोलते हुए प्रतिभागी छात्रों ने कहा कि आधुनिक साहित्य में भी समाज में महिलाओं और बच्चों की असमानताओं, गरीबी और आर्थिक असमानताओं जैसे विभिन्न सामाजिक मुद्दों का उल्लेख है जबकि विषय के विपक्ष में बोलने वाले छात्रों का विचार था कि आधुनिक साहित्य दुनिया में तकनीकी प्रगति और वैज्ञानिक विकास की झलक की दिखलाता है, न कि सामाजिकता की।

वाद-विवाद प्रतियोगिता के अलावा आज देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों के लिए ओपने माइक सेशन एवं इन्ट्रेशियन आॅनलाइन (वर्चुअल चर्चा-परिचर्चा) का आयोजन किया गया। चर्चा-परिचर्चा के अन्तर्गत प्रतिभागी छात्रों ने ‘व्हाट हैज बीन द मोस्ट फैसिनेटिंग एलीमेन्ट इन डिकन्स राइटिंग’ एवं ‘हाउ इज एजूकेशन इम्पार्टेन्ट फाॅर रीचिंग द सस्टेनबल डेवलपमेन्ट गोल्स’ विषयों पर अपने विचार रखे।

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरिओम शर्मा ने बताया कि ओडिसी इण्टरनेशनल के दूसरे दिन आज एक्साॅटिका रेसीटेजिओन (ड्रामा), टैलेन्ट आर्टिस्टक (कार्टून मेकिंग) एवं ला कोराल (समूह गान) प्रतियोगिताओं की सर्वश्रेष्ठ प्रविष्टियों का प्रदर्शन किया। इन प्रतियोगिताओं में देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों की बहुमुखी प्रतिभा देखते ही बनती थी। श्री शर्मा ने बताया कि ओडिसी इण्टरनेशनल के तीसरे दिन कल, 13 अगस्त, शुक्रवार को ओपेन माइस सेशन एवं वर्चुअल चर्चा-परिचर्चा के अलावा ला पोएसी (कविता लेखन व चित्रण) प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव