गुनाहों से बचने के लिए पीड़ित पर ही आरोपी लगाने लगे फर्जी आरोप



हरदोई (टड़ियावां)।
जनपद के थाना टड़ियावां क्षेत्र के दो पत्रकारों पर
टड़ियावां स्थिति उनके मीडिया कार्यालय पर बीते 13 अगस्त की देर शाम एक
हिस्ट्रीशीटर अपराधी अनिलले व देश दीपक शुक्ला एवं एक अज्ञात व्यक्ति ने
नाजायज तन्चे से फायर कर जान लेवा हमला किया था। फायर की आवाज सुन आस
पड़ोस के लोगों के इकट्ठा होने पर गाली गलौज कर जान माल की धमकी देकर
आरोपीगण भाग निकले थे। जिसके बाद पीड़ित पत्रकार अजीम मंसूरी के द्वारा
घटना की पूर्ण जानकारी पुलिस अधीक्षक व डायल 112 पुलिस से की गई थी।
टड़ियावां पुलिस से न्याय न मिलते देख पीड़ित अजीम मंसूरी व इस्लाम के
द्वारा पुलिस अधीक्षक एवं जिलाधिकारी को शिकायत पत्र दिया गया था। जिसके
बाद निष्पक्ष व न्याय प्रिय कार्यशैली से पहचाने जाने वाले पुलिस अधीक्षक
अजय कुमार के द्वारा मामले की जाँच क्षेत्राधिकारी हरियावाँ को सौंपी गयी
थी। जिसकी जांच प्रचलित हैं। निष्पक्ष एसपी की कार्यवाही से बचने के लिए
उक्त आरोपियों ने पीड़ितों पर ही फर्जी निराधार आरोप लगाने शुरू कर दिए,
पीड़ित इस्लाम के नाम का फर्जी शपथ पत्र बनवाकर उस पर फर्जी हस्ताक्षर कर
टड़ियावां पुलिस की मिलीभगत से उल्टा पीड़ितों पर ही अनुराग पुत्र सुरेंद्र
पाल नाम के व्यक्ति से तहरीर दिलाकर फर्जी मुकदमा दर्ज करवाने की रच दी
साज़िश, अब निष्पक्ष एसपी साहब आरोपी देश दीपक शुक्ला, हिस्ट्रीशीटर
अपराधी अनिलले एवं फर्जी शिकायत कर्ता अनुराग व थाना प्रभारी टड़ियावां के
मोबाइल फोन व्हाट्सएप व फोन नम्बर की कॉल डिटेल की सीडीआर निकाल कर जनपद
के सर्किल हरियावाँ को छोड़कर दूसरे सर्किल के अधिकारियों से निष्पक्ष
जांच करा ली जाए तो आरोपियों के षणयंत्र के दूध का दूध पानी का पानी हो
जायेगा। साथ ही पीड़ितों पर हुए हमले की जानकारी आस पड़ोसियों से कर ली जाए
जिन्होंने पूरी घटना देखी हैं। इसके साथ ही पीड़ितों का अब सिर्फ निष्पक्ष
अधिकारी पुलिस अधीक्षक से ही न्याय का सहारा हैं। अब देखना यह हैं, कि
निष्पक्ष न्याय की कार्यशैली के नाम से पहचाने जाने वाले पुलिस अधीक्षक
पीड़ितों के साथ किस हद तक न्याय करेंगे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव