'अब्बा जान' पर विधान परिषद में मचा घमासान


योगी बोले- 'अब्बा जान' शब्द कब से असंसदीय हो गया...सपा को परहेज क्यों है?

उत्तर प्रदेश में विधानसभा का मानसून सत्र मंगलवार यानी आज से शुरू हो गया है। पहले दिन विधानसभा शोक प्रस्ताव के बाद अगले दिन यानी बुधवार तक सत्र स्थगित हो गया है। सत्र शुरू होने से पहले सपा के विधायकों ने सड़क से लेकर विधान भवन परिसर तक जमकर हंगामा किया। चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के सामने धरना दिया। इससे पहले करीब 10 बजकर 45 मिनट पर प्रेस से बात करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर सवाल खड़ा किया था।

विधानसभा के मानसून सत्र के बाद सीएम विधान परिषद पहुंचे। यहां उन्होंने 'अब्बा जान' शब्द का इस्तेमाल कर अखिलेश यादव पर तंज कसा। विधान परिषद में बोलते हुए सीएम ने कहा- 'अब्बा जान' शब्द कब से असंसदीय हो गया। इससे सपा को परहेज क्यों है?

सीएम योगी के 'अब्बा जान' वाले बयान के बाद परिषद में हंगामा शुरू हो गया। इसपर नेता विरोधी दल अहमद हसन ने आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि सीएम की भाषा से तकलीफ पहुंची है। सपा अपनी मांग पर अड़ी रही और फिर से सपा सदस्य वेल में पहुंच गए। सपा विधायकों ने इस 'अब्बा जान' शब्द को कार्यवाही से निकालने की मांग की। सदन की कार्यवाही बाधित हो गई।

अखिलेश ने जताई थी आपत्ति
दरअसल, कुछ दिन पहले सीएम ने एक चैनल के मंच पर नाम लिए बगैर मुलायम सिंह के लिए 'अब्बा जान' शब्द का इस्तेमाल किया था। इससे अखिलेश यादव नाराज हो गए। अखिलेश ने कुछ दिनों पहले 'अब्बा जान' शब्द को लेकर सीएम योगी की कड़ी आलोचना करते हुए कहा था कि सीएम को अपनी मार्यादा में रहकर ही बोलना चाहिए, नहीं तो मैं भी उनके पिता के लिए कुछ कह दूंगा।

मोदी की वैक्सीन 'अब्बा जान' ने लगवाई तो सब लगवा रहे हैं
समाजवादी पार्टी के एमएलसी के हंगामे के बाद दोबारा विधान परिषद की कार्रवाई शुरू हुई। सीएम योगी ने जवाब देते हुए कहा कि अभी हमने किसी का नाम नहीं लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वो कौन चेहरे हैं, जो कहते थे कि हम वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। ये वैक्सीन भाजपा की है, मोदी की है। अब जब 'अब्बा जान' वैक्सीन लगाते हैं तो सब लगवा रहे हैं।

विधान परिषद में सीएम ने गिनाई कोरोना काल की उपलब्धियां
विधान परिषद में सीएम ने कहा कि यूपी में टेस्टिंग की क्षमता नहीं थी। आगरा में जो पहले मरीज थे, उनका सैंपल पुणे गया था। आज यूपी 4 लाख प्रतिदिन टेस्ट की क्षमता रखता है। आज सबसे ज्यादा टेस्ट करने वाला राज्य यूपी ही है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक