हरदोई : पिता ने मासूम बेटे को नहर में फेंका

तीन द‍िन बाद खुला राज-तलाश शुरू



हरदोई ,दूध का डिब्बा लाने के लिए कहने पर एक युवक ने अपने एक वर्षीय पुत्र को माइनर में फेंक दिया। मंगलवार को वह गांव पहुंचा तो पत्नी ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया तो उसने हकीकत बताई। पुलिस ने आरोपित को हिरासत में लेकर बच्चे की खोजबीन शुरू कर दी है, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका। बेहटागोकुल क्षेत्र के ग्राम दौलतपुर मजरा असगरपुर निवासी बबली ने बताया कि उसकी सात वर्ष पहले अमर सिंह के साथ शादी हुई थी। उसके दो बेटे आदित्य और हंश एक वर्ष थे। पति नशे का आदी है।

शनिवार को उन्होंने पति से हंश के लिए दूध का डिब्बा लाने के लिए कहा। इस पर पति गुस्सा हो गए और उसने मारने पीटने लगे। इसके बाद हंश को उठाकर घर से भाग गए। वह उनकी तलाश करती रही पर कुछ पता नहीं चला। मंगलवार को बबली ने अमर सिंह को गांव के बाहर पकड़ लिया और बेटे के बारे में पूछा, लेकिन उसने कुछ नहीं बताया। बबली ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस अमर सिंह को पकड़कर थाने ले गई और पूछताछ की। आरोपित ने बताया कि उसने गांव के बाहर माइनर में बेटे को फेंक दिया था और फरार हो गया था। थाना प्रभारी राजेश कुमार राय ने बताया कि आरोपित के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर उसकी निशानदेही पर ही बच्चे की तलाश हो रही है। इसके लिए टीम लगाई गई हैं।

बच्चे को फेंककर नहीं गया था घरनशे का आदी अमर सिंह बच्चे को माइनर में फेंकने के बाद घर नहीं गया और इधर उधर ही टललता रहा। शनिवार से ही उसकी पत्नी बबली परेशान थी औऱ जैसे ही मंगलवार को उसे देखा अकेले ही पकड़ लिया तो पूरी बात सामने आई।

बंद कराया गया माइनर का पानीपुलिस टीम माइनर में बच्चे की तलाश कर रही है। थाना प्रभारी ने बताया कि हरदोई शाहजहांपुर मार्ग पर शारदा नहर से निकले माइनर का पानी बंद कराया गया है। पानी बंद होने के बाद बच्चे की आसानी से तलाश हो सकेगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव