शिक्षण संस्थान खैराबाद को मिला वन डिस्ट्रिक्ट ग्रीन चैम्पियन पुरस्कार

 


सीतापुर
। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद, उच्च शिक्षा, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, खैराबाद-सीतापुर को ‘‘वन डिस्ट्रिक्ट ग्रीन चैम्पियन‘‘ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उक्त सम्मान एवं 5000.00 रूपये की धनराशि विकास भवन, सभागार में आयोजित कार्यशाला में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य मनोज कुमार अहिरवार को प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी ने प्रदान किया। राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद, भारत सरकार एवं जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, खैराबाद-सीतापुर द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। इस कार्यशाला में पर्यावरण एवं स्वच्छता के विभिन्न घटको जैसे जल संरक्षण, ग्रीन कैम्पस, वृक्षारोपण, रेन वाटर हार्वेस्टिंग, सामुदायिक सहभागिता आदि विषयों पर जिला के समस्त उच्च शिक्षण संस्थानों ने सक्रिया सहभागिता की।स्वच्छता एक्शन प्लान के तहत पूरे भारत से 400 उच्च शिक्षण संस्थानों का चयन हुआ, जिसमें जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, खैराबाद-सीतापुर ने अपना स्थान सुनिश्चित किया है। एक जिला एक कैम्पस के इस चयन में उत्तर प्रदेश के लगभग 57 उच्च शिक्षण संस्थान ग्रीन चैम्पियन अवार्ड से सम्मानित हुए। कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि प्रभारी मुख्य विकास अधिकारीध्जिला विकास अधिकारी ने जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, खैराबाद-सीतापुर द्वारा स्वच्छता एक्शन प्लान को योजनाबद्ध एवं समुचित तरीके से अपनाये जाने की सराहना करते हुए कहा कि इस योजना को सरकारी योजना के रूप में न देखते हुए जन आन्दोलन का रूप देने की आवश्यकता है। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, खैराबाद-सीतापुर से अन्य शिक्षण संस्थानों से प्रेरणा लेते हुए इस दिशा में कार्य करने की आवश्यकता पर बल दिया। प्रभारी मुख्य विकास अधिकारीध्जिला विकास अधिकारी ने प्राचार्यध्उप शिक्षा निदेशक, श्री मनोज कुमार अहिरवार को ग्रीन चैम्पियन अवार्ड से सम्मानित करते हुए शुभ कामनाएं दी। प्राचार्यध्उप शिक्षा निदेशक, श्री मनोज कुमार अहिरवार ने जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, खैराबाद-सीतापुर के परिसर में ग्रीन कैम्पस एवं स्वच्छता विषयक विभिन्न कार्यक्रमों एवं योजनाओं का उल्लेख करते हुए उनकी महत्ता पर प्रकाश डालते हुए समाज को इन कार्यो से जोड़ने की चर्चा की।  स्वच्छता एक्शन प्लान के समन्वयक डा0 अनिल कुमार दुबे ने समता, समन्वय, समावेश, स्वावलम्बन एवं सहानुभूति के माध्यम से मानवीय अस्तित्व के आधार जल, जंगल, जमीन, गाय, गंगा, गोबर आदि के संरक्षण एवं संवर्द्धन के उपायों पर चर्चा करते हुए सभी शिक्षण संस्थानों को स्वच्छता मैनुवल अपनाने की आवश्यकता पर चर्चा की। कार्यक्रम में जिला विद्यालय निरीक्षक, सीतापुर के प्रतिनिधि, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, सीतापुर, श्रीमती रूचि सागर, जिला समन्वयक  (डळछब्त्म्) सहित जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के समस्त प्रवक्ता, निजी डी0एल0एड0 के प्राचार्य भौतिक रूप से कार्यशाला में उपस्थित रहें एवं विभिन्न महाविद्यालयों के प्राचार्यगण ऑनलाइन जुड़े रहे। टीम एम.जी.एन.सी.आर.ई. ने सभी का धन्यवाद व आभार प्रकट किया।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक