जातिगत जनगणना और शिक्षक भर्ती घोटाले की जांच को लेकर कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन, सौंपा ज्ञापन

 


हरदोई।
उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रांतीय आवाहन पर जिला एवं शहर कांग्रेस पिछडा़ वर्ग विभाग जातिगत जनगणना और शिक्षक भर्ती घोटाले को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करते हुये राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन दिया। इस मौके पर प्रदेश महासचिव पिछड़ा वर्ग डॉ0 राजीव कुमार सिंह लोध ने कहा कि पूरे देश में पिछड़ों की आबादी लगभग 65 प्रतिशत के करीब है परंतु पिछडो को उनकी आबादी के अनुरूप किसी भी क्षेत्र में प्रतिनिधित्व नहीं मिल पा रहा है इसका मुख्य कारण जातिगत जनगणना 2001 के बाद से ना होना है। श्री लोध ने कहा कि पिछड़ों के हक पर डाका डाला जा रहा है। भाजपा शासित राज्यों की सरकारें और केंद्र की मोदी सरकार जब से सत्तासीन हुई है वह साजिशन पिछडो का आरक्षण खत्म करना चाह रही है। लगातार सरकारी संस्थानों का निजीकरण किया जा रहा है जो पिछड़ों के आरक्षण के हक पर डाका डालने जैसा ही कृत्य हैं। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में 69000 शिक्षकों की भर्ती में घोटाला किया गया है। पिछडो के आरक्षण मे घोटाला किया गया है। उन्होने ज्ञापन में मुख्यरूप से मांग करते हुये कहा कि केंद्र सरकार जातिगत जनगणना 2021 को अविलंब कराएं पिछड़ी जाति का जाति वार, संख्या वार जनगणना कराई जाए जिससे पिछड़ों को उनकी संख्या और भागीदारी मिल सके। केंद्र एवं राज्य सरकारों की नौकरियों में पिछड़ों का आरक्षण जाति की संख्या के आधार पर न्यूनतम 50 प्रतिशत किया जाए। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में उ.प्र. शिक्षक भर्ती 69000 हुए शिक्षक भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच हो और दोषियों पर सख्त कार्रवाई हो। उन्होने महामहिम ज्ञापन के माध्यम से अनुरोध किया कि उनकी मांगो को संज्ञान में लेकर सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को कार्यवाही के लिए निर्देश दिय जायें। ज्ञापन देने वालो में अमीर अहमद सिद्दीकी प्रदेश सचिव ओबीसी, ओबीसी जिला अध्यक्ष शिवा पाल, ओबीसी शहर अध्यक्ष रियाज अहमद, भुट्टो मियां पूर्व महासचिव, महिला अध्यक्ष सुनीता देवी, ओमेंद्र कुमार वर्मा पूर्व उपाध्यक्ष, वृंदावन बिहारी श्रीवास्तव पूर्व उपाध्यक्ष, डॉक्टर श्याम प्रकाश शुक्ला पूर्व महासचिव व प्रवक्ता, विनीत वर्मा जिला चेयरमैन अनुसूचित जाति विभाग, शिवम चैहान शहर अध्यक्ष एनएसयू आई, पुनीत वर्मा, संभावित प्रत्याशी गोपामऊ, राजीव श्रीवास्तव पूर्व महासचिव, रिशू गुप्ता, फिरोज अहमद, सैय्यद अहमद, मुईन अहमद, पवन गुप्ता, अनीता पाण्डेय, रीता वर्मा, संजय वर्मा, रईस अहमद’ इत्यादि लोग उपस्थित रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक