शिक्षा मित्र, आशा और आंगनबाड़ी वर्कर्स की सैलरी, सरकार ने अनुपूरक बजट पेश किया

 


उत्‍तर प्रदेश चुनाव की तैयारियों में जुटी योगी सरकार ने बुधवार को विधान मंडल में वित्‍तीय वर्ष 2021.22 का पहला अनुपूरक बजट पेश किया। इसके साथ ही सरकार ने प्रदेश के शिक्षा मित्रोंए रोजगार सेवकोंए चौकीदारोंए आशा और आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के मानदेय बढ़ोत्‍तरी का रास्‍ता साफ कर दिया है। जल्‍द ही इनकी सैलरी बढ़ जाएगी। कुल 7301ण्52 करोड़ रुपए का अनुपूरक बजट वित्‍त मंत्री सुरेश खन्‍ना ने पेश किया। इसमें ज्‍यादातर धन मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की घोषणाओं और अगले छह महीने में पूरी की जा सकने वाली परियोजनाओं पर खर्च होगा। विधानमंडल में अनुपूरक बजट पेश किए जाने से पहले योगी कैबिनेट की बैठक में इसके प्रस्‍तावों पर मुहर लगी। 

अनुपूरक बजट पेश करते हुए वित्‍त मंत्री सुरेश खन्‍ना ने बताया कि यह आम बजट का 1.33 प्रतिशत है। उन्‍होंने कहा कि साढ़े चार वर्षों के कार्यकाल में यूपी में पब्लिक का परसेप्शन बदला है। योगी सरकार ने कई नए रिकार्ड बनाए और कई रिकार्ड तोड़े हैं। उन्‍होंने कहा कि अनुपूरक बजटए आम बजट का बहुत छोटा सा हिस्‍सा है। इसे अत्यंत जरूरी योजनाओं को पूरा करने के लिए लाया गया है। अनुपूरक बजट में युवाओं को रोजगार के लिए तीन हजार करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। गन्ना किसानों के भुगतान और अधिवक्ताओं के लिए सामाजिक सुरक्षा निधि का भी इसमें प्रावधान किया गया है। राजधानी लखनऊ में अंबेडकर स्मारक और सांस्कृतिक केंद्र का निर्माणए आंगनबाड़ी कार्यकत्रीए आशा और चौकीदारों के लिए मानदेय में वृद्धिए गोवंश का रखरखावए आयोध्या में पार्किंग की व्यवस्था और बेसिक इफ्रास्ट्रक्चर के लिए बजट में प्रावधान किया गया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव