सीडीओ ने किया ब्लाक टड़ियावां का निरीक्षण, लापरवाह एडीओ पंचायत का रोका वेतन


 सीडीओ ने सभागार के सौन्दर्याीेरण व डायस बनाने के दिये निर्देश 

हरदोई। सीडीओ आकांक्षा राना द्वारा पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार गुरूवार को विकास खण्ड टड़ियावां का निरीक्षण किया तथा योजनाओं की समीक्षा एवं अभिलेखों का निरीक्षण किया। पंचायती राज विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं में अपेक्षित प्रगति न प्राप्त होने पर सहायक विकास अधिकारी, पंचायत अरविन्द वर्मा का कार्य पूर्ण होने तक जहाॅं एक ओर वेतन बाधित किया गया वहीं दूसरी ओर अभिलेखों का रख-रखाव ठीक पाये जाने पर सुनील दीक्षित वरिष्ठ सहायक को प्रषंसा पत्र दिया गया। कार्यों की स्थलीय गुणवत्ता का आकलन करने हेतु राज्य वित्त के दो कार्य एवं मनरेगाा के दो कार्यों का रेण्डम रूप से चयन कर सायंकाल तक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देष खण्ड विकास अधिकारी सन्ध्या रानी का दिये गये। साथ ही मुख्य विकास अधिकारी द्वारा विकास खण्ड परिसर में स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की स्मृति में बनाये गये स्तम्भ पर पुष्प अर्पित किए गए। निरीक्षण कार्यक्रम में सर्व प्रथम मुख्य विकास अधिकारी सर्वप्रथम ब्लाक के प्रषासनिक भवन, आवासीय परिसर एवं बैठक कक्ष का निरीक्षण किया गया। टड़ियावां  ब्लाक परिसर में दूरसंचार विभाग, चकबन्दी विभाग,कृषि विभाग एवं बाल विकास परियोजना विभाग के कार्यालय स्थित हैं। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा चकबन्दी कार्यालय,   कृषि विभाग के कार्यालय एवं सीडीपीओ कार्यालय का निरीक्षण किया गया तथा कर्मचारियों को कार्यालय की समुचित साफ-सफाई रखने के निर्देष दिये गये। ब्लाक परिसर में बने सभागार के सौन्दर्याीेरण एवं डायस बनाने के निर्देश खण्ड विकास अधिकरी को दिये गये। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा स्थापना पटल के विभिन्न अभिलेख यथा उपस्थित पंजिका, गार्ड फाइल, स्थापना गार्ड फाइल, सर्विस बुक, जीपीएफ पासबुक, रजिस्टर आफ रजिस्टर, रजिस्टर आफ फाइल, निरीक्षण पंजिका, मूवमेन्ट रजिस्टर, आदेष पंजिका का निरीक्षण किया गया तथा अभिलेख पूर्ण पाये जाने पर सुनील दीक्षित,वरिष्ठ सहायक को प्रषंसा प्रविष्टि दी गयीै। लेखा पटल से संबंधित ग्रान्ट रजिस्टर भाग-01,भाग-02,भाग-03 का निरीक्षण किया गया तथा विभिन्न मदों में अवषेष धनराषियों के नियमानुसार निस्तारण के निर्देष दिये गये। मनरेगा, आवास, ग्रामीण आजीविका मिषन एवं पंचायती राज विभाग, कृषि विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की गयी तथा पंचायती राज विभाग के अन्तर्गत सामुदायिक शौचालयों 68 के सापेक्ष 62 बने होने के उपरांत मात्र 32 को ही समूहों को रख’रखाव हेतु हस्तानान्तरित पाये जाने पर शत-प्रतिषत सामुदायिक शौचालय निर्माण एवं समूहों को स्थानान्तरित किए जाने तक अरविन्द वर्मा, सहायक विकास अधिकारी पंचायत का वेतन बाधित किया गया। निरीक्षण के समय श्रीमती सन्ध्या रानी, खण्ड विकास अधिकारी, टड़ियावां, एस0पी0 सिह, अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी एवं अन्य अन्य ब्लाक स्तरीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक