नारी सुरक्षा और सम्मान का प्रतीक है मिशन शक्ति अभियान

 


मछरेहटा/ सीतापुर
। कोई भी समाज तब तक प्रगतिशील नहीं कहा जा सकता जब तक उस समाज मे स्त्रियों का चहुमुखी विकास नहीं होता । वैदिक काल की सामाजिक और सांस्कृतिक व्यवस्था अपने चरम उत्कर्ष पर इसलिये थी क्योंकि उस समय महिलाएं गृहस्थी के कार्यों तक सीमित नहीं थीं । वे सुशिक्षित होकर पुरुषों के बराबर ही सम्मानित थीं और ज्ञान विज्ञान के क्षेत्र में उनका दबदबा कायम था । काफी समय तक देश दुनिया में उथल पुथल की स्थिति देखने को मिली । आधुनिक युग मे सामाजिक संगठनों और सरकारी प्रयासों के फलस्वरूप एक बार फिर जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में स्त्रियों ने अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराई है । अपनी मेहनत लगन कार्यकुशलता और शिक्षा के बलबूते आज की नारी अंतरिक्ष में उड़ान भरती नजर आती है । उक्त विचार मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत ग्राम पंचायत सड़िला मे आयोजित एक कार्यक्रम में मछरेहटा थानाध्यक्ष आरबी सुमन ने व्यक्त किए । ग्राम पंचायत बीहट बीरम मे आयोजित मिशन शक्ति कार्यक्रम में थाने के उपनिरीक्षक उमराव सिंह ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी । वहीं महिला आरक्षी स्वाती चौहान ने महिलाओं को निडर होकर कार्य करने की बात कही । इस अवसर पर ग्राम प्रधान परंतप सिंह शेखावत एडीओ पंचायत गौरव मिश्रा वरिष्ठ उपनिरीक्षक अनिल तिवारी आरक्षी शैलेन्द्र शुक्ला संजय कुमार महिला आरक्षी कल्पना शुक्ला सहायक अध्यापिका कुसुम लता अनुदेशक हर्षिता सिंह ज्योति वर्मा सहित सैकड़ों महिलाएं और बालिकाएं उपस्थित रहे । महिला आरक्षी स्वाती चौहान ने इस अवसर पर सुरक्षा के प्रतीक स्वरूप राखी भी बालिकाओं की कलाई पर बांधी । मछरेहटा कस्बे में प्रधान प्रतिनिधि मनोज रावत की उपस्थिति में मिशन शक्ति कार्यक्रम संपन्न हुआ वही थाना क्षेत्र मछरेहटा के विभिन्न विभिन्न पंचायतो में मिशन शक्ति के तहत कार्यक्रम सम्पन्न हुए जिसमे सडीला,राठौरपुर,कुमाऊ ग्रंट, व ग्वाली में प्रधान व उप निरीक्षक राजेन्द्र कुमार रावत ,महिला कांस्टेबल की उपस्थिति रही ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव