भारत के बनाए फ्रेंडशिप डैम पर तालिबान का कब्जा


 तालिबान 7 दिन में अफगानिस्तान के दूसरे सबसे बड़े शहर कंधार समेत 19 प्रांतों पर कब्जा कर चुका है। वहीं, तालिबान के खिलाफ लड़ने वाले लोग भी अब सरेंडर करने लगे हैं। अफगानिस्तान के हेरात प्रांत के गर्वनर रहे इस्माइल खान इस वक्त तालिबान के कब्जे में हैं। वे तालिबान के खिलाफ लड़ने वाले प्रमुख लोगों में शामिल थे, लेकिन अब उन्होंने तालिबान के आगे सरेंडर कर दिया है।

बता दें, इस्माइल खान अफगानिस्तान में भारत के करीबी दोस्त थे। उन्होंने हेरात में भारत की मदद से बने सलमा बांध के निर्माण में अहम भूमिका निभाई थी। इस डैम का इनॉगरेशन 4 जून 2016 को किया गया था। ये हेरात के चिश्ती शरीफ जिले में स्थित हारी नदी पर बना है। बाद में इसका नाम सलमा डैम से बदलकर अफगानिस्तान-इंडिया फ्रेंडशिप डैम कर दिया गया था। तालिबानियों ने इस डैम पर भी कब्जा कर लिया है।

अफगानिस्तान के उप-राष्ट्रपति ने तजाकिस्तान भागने की खबरों का किया खंडन
अफगानिस्तान के उप-राष्ट्रपति अमीरुल्लाह सालेह ने तजाकिस्तान भागने की रिपोर्टों का खंडन किया है। उपराष्ट्रपति के प्रवक्ता रिजवान मुराद ने भास्कर को बताया, वो काबुल में हैं, उच्च स्तरीय सुरक्षा बैठक में हिस्सा ले रहे हैं। काबुल में इस समय अफगानिस्तान सरकार की उच्च स्तरीय बैठक चल रही है। इसमें कतर में तालिबान से बात कर रहे अधिकारी भी शामिल हैं। इस बैठक के बाद तय होगा कि आगे राष्ट्रपति क्या करेंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक