हर्षोल्लास के साथ आॅनलाइन मनाया गया सी.एम.एस. संस्थापिका डा. भारती गाँधी का जन्मदिन


 लखनऊ
, 8 अगस्त। प्रख्यात शिक्षाविद् एवं सिटी मोन्टेसरी स्कूल की संस्थापिका-निदेशिका डा. (श्रीमती) भारती गाँधी का जन्मदिवस आज बड़े ही हर्षोल्लास के साथ आॅनलाइन मनाया गया। कोविड-19 से सुरक्षा के दृष्टिगत इस वर्ष डा. भारती गाँधी का जन्मदिवस पूरे कोविड प्रोटोकाल के साथ मनाया गया। इस अवसर पर सी.एम.एस. के सभी कार्यकर्ताओं व विद्यालय में अध्ययनरत 55000 छात्रों व शिक्षकों ने अपनी आध्यात्मिक अभिभावक एवं प्रेरणास्रोत डा. गाँधी का जन्मदिन मनाया और बधाई कार्ड बनाकर अपनी भावनाओं को उकेरा। सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी, सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन, सी.एम.एस. के डायरेक्टर आॅफ स्ट्रेटजी, श्री रोशन गाँधी, सी.एम.एस. के विभिन्न कैम्पस की प्रधानाचार्याओं, गणमान्य हस्तियों व प्रबुद्ध नागरिकों ने डा. भारती गाँधी को जन्मदिवस की बधाईयाँ देते हुए उनकी दीर्घायु की कामना की। इस अवसर पर सभी के प्रति हार्दिक आभार व्यक्त करते हुए डा. भारती गाँधी ने कहा कि मुझे प्रसन्नता है कि सी.एम.एस. के सभी कार्यकर्ता, शिक्षक व छात्र बड़े मनोयोग से समाज के नवनिर्माण में जुटे हैं। 

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि डा. गाँधी के अतुलनीय प्रयासों की बदौलत ही 5 बच्चों से शुरू हुए सिटी मोन्टेसरी स्कूल में आज 55,000 हजार बच्चे उत्कृष्ट शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। आपके मार्गदर्शन में गिनीज बुक आॅफ वल्र्ड रिकार्डस होल्डर एवं यूनेस्को शान्ति शिक्षा पुरस्कार से सम्मानित सिटी मोन्टेसरी स्कूल ने विश्व में एक अलग स्थान अर्जित किया है। 8 अगस्त 1936 को जिला बुलन्दशहर के अनूपशहर में जन्मीं डा. गाँधी ने बच्चों की शिक्षा-दीक्षा पर विशेष शोध किया है एवं विशेषज्ञता अर्जित की है। डिप्लोमा आॅफ चाइल्ड गाइडेन्स साइकोलाॅजिस्ट के पश्चात पी.एच.डी. की डिग्री हासिल की एवं शिक्षा के क्षेत्र में अपने ज्ञान का विस्तार करने हेतु डा. गाँधी ने विभिन्न देशों की शिक्षा प्रणाली का अध्ययन करने हेतु जर्मनी, हालैंड, फ्रांस, सोवियत संघ, संयुक्त राज्य अमरीका, इंग्लैण्ड, अफगानिस्तान, हांगकांग, मलेशिया, थाईलैंड, सिंगापुर, म्यांमार, इजराइल, ईरान, बेल्जियम, स्लोवाकिया, अफ्रीका आदि कई देशों की यात्राएं की। डा. गाँधी को शिक्षा व सामाजिक क्षेत्र में की गई उत्कृष्ट सेवाओं के लिए अब तक अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक