संगठन में सिर्फ सक्रिय और मेहनती कार्यकर्ता को ही पदाधिकारी बनाएं : क्षत्रपाल सिंह यादव


  टाउन हाल स्थित सपा कार्यालय पर हुई सपा की मासिक बैठक

सीतापुर। समाजवादी पार्टी जिला कार्यालय टाउन हाल में समाजवादी पार्टी की मासिक बैठक जिलाध्यक्ष क्षत्रपाल सिंह यादव की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक का संचालन महासचिव मसूद आलम अंसारी ने किया। बैठक को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष ने उपस्थित सभी विधानसभा अध्यक्षों को निर्देशित किया कि वह अपनी विधानसभा कमेटी व ब्लाक कमेटी को पूर्णतया सक्रिय करें और विधानसभा व ब्लाक की बैठकें करना शुरू करें और जल्द से जल्द बूथ कमेटी बनाकर जमा करें। जिलाध्यक्ष ने उपस्थित सभी फ्रन्टल जिलाध्यक्षों को निर्देशित किया कि वह सभी अपने अपने पदाधिकारियों को सक्रिय कर बूथ स्तर पर जुट जाये, संगठन में सिर्फ  सक्रिय और मेहनती कार्यकर्ता को पदाधिकारी बनाएं। बैठक में जिलाध्यक्ष ने कहा कि कहा कि पिछली चुनाव कि तरह हम सभी को हवा हवाई बातों से चुनाव नहीं लडना है। यदि वास्तव में हम सभी को पार्टी को बूथ स्तर पर मजबूत करना है तो हम सभी कार्यकर्ताओं को ये संकल्प लेना है कि पार्टी के साथ पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ बूथ स्तर तक कार्य कर पार्टी को मजबूत करना है। हमें ये सोच बदलनी होगी कि ये मेरा है वो उनका है जब तक हम हर वर्ग के लोगों के साथ नहीं बैठेंगे या मिलेंगे नहीं तब तक हम मजबूत नहीं होंगे। बैठक में पूर्व मंत्री रामपाल राजवंशी ने कहा कि ऐसी कौन सी विशेष बात भाजपा राज में हुई है कि जनता उसके लिए मुख्यमंत्री के नाम पर ताली पीटेगी। हर मोर्चे पर तो भाजपा सरकार विफल रही है। गरीब ज्यादा गरीब हुआ है मंहगाई ने उसकी कमर तोड़ दी है। चंद पूंजीघरानों की सम्पत्ति लॉकडाउन के समय में भी कई गुना बढ़ गई। सच तो यह है कि देश की सम्पत्ति को दो लोग बेंच रहे हैं और दो लोग खरीद रहे हैं। देश की सारी अर्थव्यवस्था इन्हीं घरानों में कैद करने की साजिशें हो रही है। जनता इससे पूरी तरह वाकिफ  है और वह तय कर चुकी है कि सन् 2022 में वह वादाखिलाफ ी करने वालों को ठीक से सबक सिखाकर समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने जा रही हैं। जिलाध्यक्ष ने बताया कि बैठक के उपरांत मण्डल आयोग की समस्त सिफ ारिशों को लागू कराने के लिए समाजवादी पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ द्वारा मण्डल आयोग की सिफ ारिशें लागू कराने पर चर्चा के साथ राष्ट्रपति को सम्बोधित 07 सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से सौंपा गया। ज्ञापन में कहा गया है कि सत्तारूढ़ भाजपा सरकार द्वारा संविधान की मूल भावना से खिलवाड़ किया जा रहा है। आरक्षण समाप्त किया जा रहा है। पिछड़े, दलित, आदिवासी, अल्पसंख्यक और महिलाओं के साथ बर्बरतापूर्ण अन्याय और अत्याचार चरम सीमा पर है। सरकार की गलत नीतियों के चलते समाज के हर वर्ग के अधिकार खतरे में है। इस मौके पर पूर्व विधायक राधेश्याम जायसवाल, अनिल वर्मा, निर्मल वर्मा, पूर्व मंत्री रामपाल राजवंशी, जिला उपाध्यक्ष कौशलेन्द्र सिंह, विजय वर्मा, चित्रकेश यादव, शब्बीर खाँ, लाल सिंह यादव, जिला कार्यालय प्रभारी जयसिंह यादव, जिला सचिव सुहैल अहमद, चन्द्रशेखर यादव, मनोज भारती, रामप्रकाश यादव, दीपक शुक्ल, संदीप गुप्ता, संजय प्रकाश सिंह, बदलूराम निषाद, अंकित त्रिवेदी, छात्र सभा जिलाध्यक्ष विनय यादव, यूथ ब्रिग्रेड जिलाध्यक्ष संदीप कश्यप, लोहिया वाहिनी जिलाध्यक्ष मदन कनौजिया, पिछड़ा वर्ग जिलाध्यक्ष सुदीप मौर्य, मजदूर सभा जिलाध्यक्ष विजय यादव, शिक्षक सभा जिलाध्यक्ष विजय बहादुर यादव, अधिवक्ता सभा जिलाध्यक्ष सुधीर शर्मा, शिवम मिश्रा, अभय प्रताप यादव, राजकिशोर गौतम, श्रीपाल यादव आदि लोग मौजूद रहे। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक